Cover

कर्नाटक सरकार ने किया पहली जनवरी से 10वीं और 12वीं के स्कूलों को खोलने का फैसला, कई दूसरे राज्‍यों ने भी की शुरुआत

नई दिल्‍ली/बेंगलुरू। देश में जैसे जैसे कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आ रही है स्‍कूलों को खोले जाने की पहल भी शुरू हो गई है। कर्नाटक सरकार ने स्कूलों और प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेजों यानी पीयूसी (Pre-University Colleges) को कक्षा-10 और 12वीं के छात्रों के लिए एक जनवरी से फिर से खोलने का बड़ा फैसला किया है। राज्‍य के शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार (S Suresh Kumar) ने शनिवार को यह जानकारी दी। ये स्‍कूल कोरोना संकट के चलते पैदा हुए हालत के कारण बंद थे। इसके साथ ही राज्य सरकार ने विद्यागम कार्यक्रम भी शुरू करने फैसला किया है।

विद्यागम कार्यक्रम भी होगा शुरू

विद्यागम कार्यक्रम कक्षा छह से कक्षा नौ तक के छात्रों के लिए सतत स्कूली शिक्षा के लिए सक्षम बनाता है। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य में स्कूल और पीयूसी कॉलेजों को फिर से खोलने का फैसला मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की अध्यक्षता में हुई एक उच्च-स्तरीय बैठक में लिया गया। कोविड-19 के लिए राज्य की तकनीकी सलाहकार समिति की सलाह के बाद स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला लिया गया है। फैसला लेने से पहले इस मसले पर लगभग एक घंटे तक विस्तार से चर्चा की गई।

बाकी स्‍कूलों को खोलने पर भी लिया जाएगा निर्णय

मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने ट्वीट करके कहा कि इन स्‍कूलों को खोले जाने के 15 दिन की स्थितियों की समीक्षा की जाएगी और बाद में अन्य कक्षाओं के छात्रों के लिए स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला लिया जाएगा। कक्षा-10 और 12वीं की कक्षाएं शुरू करना महत्वपूर्ण है क्योंकि इन छात्रों को बोर्ड की परीक्षाएं देनी है। मालूम हो कि कर्नाटक में 17 नवंबर को डिग्री और इंजीनियरिंग कॉलेज खोले गए थे। उल्‍लेखनीय है कि कोरोना महामारी के चलते देश के कई राज्‍यों में मार्च से ही स्कूलों को बंद रखा गया है।

पुडुचेरी और बिहार में भी खुल रहे स्‍कूल

हाल ही में पुडुचेरी की सरकार ने भी स्कूलों को जनवरी से खोले जाने का फैसला लिया था। राज्‍य के कृषि और शिक्षा मंत्री आर कमलकन्नन ने बताया कि चार जनवरी से पहली से 12वीं तक के सभी स्कूलों को खोला जाएगा। राज्‍य के शिक्षा मंत्री के मुताबिक, 18 जनवरी से सभी स्कूलों में कोरोना संकट से पहले की तरह पूरे दिन कक्षाएं चलने लगेंगी। बिहार सरकार ने भी चार जनवरी से चरणवार स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों खोलने को हरी झंडी दे दी है। शुरुआती चरण में उच्च कक्षाओं के स्कूल कॉलेज खुलेंगे। समीक्षा के बाद 18 जनवरी से बाकी कक्षाओं के स्कूल खोल दिए जाएंगे

मध्‍य प्रदेश और झारखंड में भी चलेंगी कक्षाएं

मध्य प्रदेश सरकार ने भी सभी शासकीय और निजी विद्यालयों को फिर से खोलने का फैसला लिया है। विद्यालयों में 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए नियमित कक्षाएं शुरू हो रही हैं। हालांकि स्कूलों को कोविड-19 महामारी के निर्देशों के अनुपालन के आदेश दिए गए हैं। 9वीं और 11वीं के छात्रों के लिए नियमित कक्षाएं आयोजित करने का फैसला स्कूलों के प्रिंसिपल लेंगे। यही नहीं झारखंड में 10वीं और 12वीं कक्षा के स्कूलों को खोलने का आदेश जारी कर दिया गया है। सरकारी स्कूलों के सभी शिक्षकों का आना अनिवार्य किया गया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890