Cover

‘जब आजम खान की भैंस ढूंढ सकते हो तो मेरी क्यों नहीं’, भैंस चोरी के बाद पुलिस के गले पड़ा किसान

भोपाल: उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आज़म खान के मंत्री रहते समय उनकी भैंसें गुम जाने पर उनको ढूंढने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस जुट गई थी और उनको ढूंढ निकाला था। भैंस चोरी की घटना के बाद लोगों ने सोशल मीडिया में चुटकियां ली थी। सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक और ट्विटर पर पर लोगों ने खूब टिप्पणियां की थी, और मजाकिया तस्वीरें और कार्टून शेयर किए गए थे। अब ऐसा ही कुछ मामला मध्य प्रदेश में भी सामने आया है। हालांकि यहां पर पुलिस द्वारा भैंसे ढूंढने नही बल्कि एक किसान की गुम हुई भैंसो को किसी और देने का आरोप लग रहा है। जिसके बाद पुलिस सवालों के कटघरे में खड़ी दिखाई दे रही है। फरियादी ने इसकी शिकायत SP और DIG से की है।

दरअसल, ग्राम परसोरिया निवासी अनिल यादव खेती किसानी करते हैं। करीब सात महीने पहले गांव के बाहर चरते समय उनकी एक भैंस और एक पड़िया गुम गई। तलाश करने के बाद भी जब पता नहीं चला तो उन्होंने ललरिया चौकी में शिकायत की। कुछ दिन पहले पता चला कि उनके जानवर ग्राम उमरिया में बांधे गए हैं तो वह गांव पहुंचे। ग्रामीणों ने बताया कि दो सिपाही आए और मालिक का पता चल गया है, इसलिए वह भैंस और पड़िया को वापस ले जा रहे हैं।

सरपंच के पति ने गांव में बंधवाए थे मवेशी
ग्राम पंचायत नरेला दामोदर की सरपंच के पति हनीफ पटेल ने बताया कि कुछ समय पहले मवेशियों के मिलने पर गांव में बंधवाया था, लेकिन दो दिन बाद ही उन्हें खोल दिया गया। इसके बाद मवेशी दूसरे गांव उमरिया पहुंचे तो उन्हें वहां बंधवाया गया। लावारिस मिलने वाले मवेशियों को बंधवा दिया जाता है, ताकि जब मालिक मिले तो उसे वापस कर दिया जाए। कुछ दिन पहले पता चला कि दो सिपाही मवेशियों को ले गए थे, लेकिन किसान को नहीं दिए।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से की शिकायत
कुछ दिन पहले अनिल को मवेशियों का पता चला तो वह उमरिया पहुंचा। गांव वालों से जानकारी मिलने के बाद उसने हनीफ से मुलाकात की और पुलिस से की गई शिकायत के बारे में बताया। हनीफ उसे लेकर चौकी पहुंचे, तो पुलिस ने कोई सटीक जवाब नहीं दिया। बैरसिया विधायक से मुलाकात के बाद किसान ने SP नार्थ और DIG को मामले की शिकायत करते हुए भैंस और पड़िया वापस करवाने की गुहार लगाई है।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और  विधायक के संज्ञान में आया मामला
मवेशियों की शिकायत लेकर पीड़ित किसान ने बैरसिया विधायक विष्णु खत्री से मुलाकात की। विधायक ने एसपी और डीआईजी को मामले से अवगत कराया। डीआईजी ने कहा कि शिकायत भिजवा दें, मैं मामले की जांच करवा लूंगा। विधायक ने इसके साथ ही टीआई को भी बुलाकर केस की जानकारी देकर मामले को हल करने को कहा

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890