Cover

Bye-Bye 2020 : दुनिया में नए साल का स्वागत, सबसे पहले इन देशों में 2021 का आगाज

कोरोना महामारी से तंग आ चुकी दुनिया दशक के सबसे भयावह रहे साल 2020 को अलविदा कहने के बेकरार है। नए साल में चंद मिनटों का फासला रह गया है। दुनिया में नया साल 2021 नई उम्मीदों के साथ दस्तक दे रहा है। साल 2020  में दुनिया ने कोरोना  महामारी के चलते अनेक दुश्वारियों का सामना किया।  अब नए साल से नई उम्मीदें हैं और आशा है कि 2021 सबकुछ सामान्य कर देगा।  भारत में भले ही रात को 12 बजे 2021 का आगमन होगा लेकिन दुनिया के कई देशों में 2021 अभी से दस्तक दे रहा है। नए साल का जश्न कई देशों में अलग-अलग वक्त पर मनाया जाएगा।

सबसे पहले  इन देशों में न्यू ईयर सलिब्रेशन शुरू
दुनिया में सबसे पहले नया साल टोंगा, समोआ और किरिबाती द्वीपों में मनाया जाता है।  यहां भारतीय समय के अनुसार 31 दिसंबर की शाम ही करीब 3:30 बजे नया साल शुरू हो जाएगा जिसके बाद न्यूजीलैंड फिर ऑस्ट्रेलिया, जापान और दक्षिण कोरिया में न्यू ईयर का आगाज किया जाएगा।  भारतीय समय से शाम 4:30 बजे ही न्यूजीलैंड में नया साल आ जाएगा तो वहीं रूस में शाम 5:30 बजे नए साल की शुरूआत हो जाएगी।

एशिया में ये देश मनाएंगे सबसे पहले  साल 2021
एशिया की बात करें तो भारत से पहले तो जापान और दक्षिण कोरिया में सबसे पहले नए साल का स्वागत किया जाएगा। भारत के समय के मुताबिक 31 दिसंबर की रात 8:30 बजे ही इन देशों में नए साल का स्वागतक किया जाएगा।  भारत के पड़ोसी देशों की बात करें तो चीन, बांग्लादेश, म्यांमार और नेपाल में इंडिया से पहले न्यू ईयर का स्वागत किया जाएगा।  चीन में भारतीय समय के मुताबिक न्यू ईयर 31 दिसंबर की रात 9:30 बजे ही शुरू हो जाएगा।  म्यांमार की बात करें तो वहां रात 11 बजे और बांग्लादेश में रात 11:30 बजे नए साल का जश्न सेलिब्रेट किया जाएगा। भारत के बाद पाकिस्तान में नया साल सेलिब्रेट किया जाएगा।  वहां आधे घंटे बाद रात 12:30 बजे नए साल का आगाजा किया जाएगा।  एशिया में सबसे आखिर में ईरान, ईराक और तुर्की में नया साल मनाया जाएगा।

यूरोप में सबसे आखिरी और पहले में इन देशों में मनाया जाएगा नया साल 
यूरोप में नए साल की बात करें तो रूस की राजधानी मॉस्को में सबसे पहले नए साल का स्वागत किया जाएगा। जिसके बाद ग्रीस , मिस्र (Egypt) और दक्षिण अफ्रीका में नया साल मनाया जाएगा। इन देशों के बाद जर्मनी, बेल्जियम, फ्रांस और इटली में एक साथ न्यू ईयर का आगाज होगा।  इन देशों के बाद लंदन फिर ब्राजील और अर्जेंटीना और सबसे आखिरी में कनाडा और अमेरिका  में न्यू ईयर का जश्न मनाया जाएगा।

नए साल के कार्यक्रमों पर पाबंदी
दुनिया के कई देशों  में  कोरोना के चलते नए साल के कार्यक्रमों पर पाबंदी की घोषणा की गई है। भारत में नए साल को देखते हुए काफी सतर्कता बरती जा रही है। नए साल से ठीक पहले कोरोना का नया स्ट्रेन भारत में आया है, ऐसे में कई राज्यों ने अपने यहां नाइट कर्फ्यू लगा दिया है।  नई दिल्ली, ओडिशा, महाराष्ट्र, गुजरात समेत कई राज्यों ने अपने यहां पूर्ण या आंशिक रूप से नाइट कर्फ्यू लगाया है। रात 11 बजे के बाद बाहर निकलने पर मनाही है, भीड़ में ना जाने की सलाह है और साथ ही ड्राइविंग करने वालों को ब्लड टेस्ट करवाना पड़ सकता है. ऐसे में कोरोना से जुड़ी गाइडलाइन्स का पालन करते हुए ही लोग नया साल मनाएं, ताकि कोई दिक्कत ना हो।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890