Cover

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने गोरखपुर में देखा सड़कों का हाल, 10 जनवरी तक काम पूरा करनेे का अल्‍टीमेट

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि शहर के बीच जंगल कौड़िया-मोहद्दीपुर सड़क चौड़ीकरण (दोनों पटरी) का काम 10 जनवरी तक पूरा कर लिया जाए। उन्होंने मेला क्षेत्र को नो प्लास्टिक जोन बनाने तथा मंदिर तक आने वाले संपर्क मार्गों को दुरुस्त करने का निर्देश दिया।

कैंपियरगंज से मुख्यमंत्री सड़क मार्ग से गोरखनाथ मंदिर तक आए। रास्ते में उन्होंने जंगल कौड़िया में बन रहे ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। सड़क मार्ग से आते हुए उन्होंने सड़कों की हालत भी देखी। मंदिर पहुंचकर उन्होंने खिचड़ी मेला, सड़क निर्माण, गोरखपुर महोत्सव एवं अन्य विकास परियोजनाओं की समीक्षा की। कहा कि मेले में साफ-सफाई करायी जाए। शहर में सभी स्ट्रीट लाइट लगाने एवं पोल पर एलईडी लाइट लगाने का निर्देश दिया। रूट डायवर्जन की समीक्षा करते हुए मंदिर की ओर आने वाली सड़कों से अतिक्रमण हटाने एवं चौड़ा करने का निर्देश जीडीए के अधिकारियों को दिया। उन्होंने मेले में पार्किंग की पर्याप्त उचित व्यवस्था करने को कहा। अधिकारियों को निर्देश दिया कि व्यापार मंडल के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर अपील करें कि वे चढ़ाने के लिए खिचड़ी जूट के झोले में या कागज के पैकेट में लाएं। प्लास्टिक का इस्तेमाल बिल्कुल न करें।

चौरीचौरा कांड के 100 साल पूरा होने पर आयोजित होगा भव्य कार्यक्रम

मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच फरवरी को चौरीचौरा कांड के 100 साल पूरे हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर एक भव्य कार्यक्रम आयोजित किया जाए। कार्यक्रम पूरी तरह से वर्चुअल होगा। इसमें राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री को भी जोड़ने का प्रयास किया जाएगा। कार्यक्रम पांच फरवरी से पूरे साल तक चलेगा। इसमें लाइट एंड साउंड शो, बच्चों के कार्यक्रम व अन्य प्रतियोगिताएं होंगी। जिलाधिकारी को निर्देश दिया कि वे रेलवे के अधिकारियों से चौरीचौरा शहीद स्मारक जाने वाली सड़क पर स्थित रेलवे क्रासिंग पर रोड ओवरब्रिज या अंडर पास बनाने के लिए बात करें। उन्होंने कहा कि चौरीचौरा कांड पर स्टैंप डाक टिकट भी जारी किया जाएगा। वहां के पुस्तकालय को भी ठीक कराने का निर्देश दिया। निर्देश दिया कि चौरीचौरा के इतिहास से सभी को परिचित कराया जाए।

पांच को होगा टीकाकरण का ट्रायल

मुख्यमंत्री ने कोरोना वैक्सीन के लिए टीकाकरण की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि वैक्सीन रखने के लिए पर्याप्त व्यवस्था की जाए। कहा कि पांच जनवरी को टीकाकरण का ट्रायल होगा। इसकी तैयारियां कर ली जाएं।

शहर के प्रवेश द्वार पर न रहे गंदगी

सड़क मार्ग से आए मुख्यमंत्री ने शहर के प्रवेश द्वार पर गंदगी देखकर नाराजगी जतायी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रवेश द्वार को साफ-सुथरा एवं आकर्षक बनाया जाए। यह शहर में प्रवेश करते समय सुखद अनुभूति होनी चाहिए। उन्होंने गोरखपुर महोत्सव की तैयारियों की समीक्षा की और दिए जाने वाले स्मृति चिन्ह को अंतिम रूप दिया। मुख्यमंत्री ने कलाकारों की सूची भी देखी। बैठक में मंडलायुक्त जयंत नार्लिकर, जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पाण्डियन, जीडीए उपाध्यक्ष अनुज सिंह आदि मौजूद रहे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890