Cover

राजस्थान समेत इन राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि, केंद्र ने निगरानी के लिए बनाया कंट्रोल रूम

नई दिल्ली। राजस्थान, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश और केरल की सरकारों ने अब तक बर्ड फ्लू के मामलों की सूचना दी है। केंद्रीय मंत्री संजीव बाल्यान ने बुधवार को इस जानकारी दी। समाचार एजेंसी एएनआइ से बातचीत करते हुए बाल्यान ने कहा कि बर्ड फ्लू का प्रकोप भारत में कोई नई बात नहीं है और देश में 2015 से हर साल सर्दियों के दौरान बीमारी के कुछ मामले सामने आते हैं। हालांकि, आज तक भारत में मनुष्यों के इससे संक्रमित होने का मामला सामने नहीं आया है। बाल्यान ने कहा कि राज्य सरकारों को इसके प्रसार को रोकने के लिए सभी उचित उपाय करने के लिए कहा गया है। केंद्र सरकार ने राज्यों से जानकारी लेने के दिल्ली में कंट्रोल रूम स्थापित किया है।

इससे पहले एक आधिकारिक बयान में,पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्रालय ने कहा कि राजस्थान में, बारां, कोटा और झालावाड़ जिले में कौवों में बर्ड फ्लू पाया गया है। वहीं मध्य प्रदेश के मंदसौर, इंदौर और मालवा जिलों में भी कौवे में इस बीमारी की पुष्टि हुई है। हिमाचल प्रदेश में, कांगड़ा में प्रवासी पक्षियों में बर्ड फ्लू की सूचना है, जबकि केरल में कोट्टायम और अल्लापुझा जिलों में पोल्ट्री-बत्तख में इसकी सूचना है। मंत्रालय ने कहा कि 1 जनवरी, 2021 को राजस्थान और मध्य प्रदेश को एक एडवाइजरी जारी की गई थी, ताकि संक्रमण को और अधिक फैलने से बचाया जा सके।

बता दें कि मध्य प्रदेश में दक्षिण भारत के राज्यों से मुर्गे के व्यापार पर कुछ समय के लिए रोक लगा दी गई है। कई राज्यों ने बर्ड फ्लू के H5N8 स्ट्रेन को नियंत्रित करने को लेकर चेतावनी जारी की है और मरे हुए पक्षियों के नमूने जांच के लिए भेजे हैं। वहीं केरल में मुर्गियों और बत्तखों को मारना शुरू कर दिया गया है। पड़ोसी राज्य की स्थिति को देखते हुए कर्नाटक और तमिलनाडु ने निगरानी बढ़ा दी है और इसे लेकर जरूरी दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं।

Bird flu Updates:

कर्नाटक में हाई अलर्ट जारी

कर्नाटक में बर्ड फ्लू के प्रसार को रोकने के लिए हाई अलर्ट जारी है। राज्य में बुधवार को केरल से मुर्गियों और अन्य पक्षियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई। मैसूर जिला कलेक्टर रोहिणी सिंधुरी ने बताया कि केरल में बर्ड फ्लू का मामला सामने आने के बाद मैसूर-केरल बॉर्डर के कोटे तालुक में जिला प्रशासन ने प्रवेश पर रोक लगा दी।

केरल: मनुष्यों में बर्ड फ्लू का पता लगाने की तैयारी

केरल के कोट्टायम की डीसी एम अंजना ने कहा है कि नीन्दूर पंचायत में बत्तखों में बर्ड फ्लू पाया गया है। क्षेत्र के सभी 10 हजार पक्षियों को मारा होगा। मनुष्यों में इसके लक्षणों का पता लगाने के लिए परीक्षण करने की प्रक्रिया भी शुरू की गई है।

हरियाणा में पोल्ट्री में भी फैला फ्लू 

केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने कहा है कि हमें पांच राज्यों हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और केरल से बर्ड फ्लू की जानकारी मिली है। हरियाणा में, यह पोल्ट्री में भी फैल गया है। इसके अलावा यह वायरस जंगली और प्रवासी पक्षियों में पाया गया है। यह मनुष्यों में फैल सकता है, लेकिन अभी तक भारत में ऐसा कोई मामला सामने नहीं आया है। इसका कोई उपचार नहीं है। सभी राज्य सरकारों से एहतियाती कदम उठाने को कहा गया है।

मध्य प्रदेश: दक्षिण भारत के राज्यों से मुर्गे के व्यापार पर रोक

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बर्ड फ्लू किसी भी पोल्ट्री फार्म में नहीं पाया गया। केरल सहित दक्षिण के राज्यों में बर्ड फ्लू पाया गया है। इन राज्यों से जो मुर्गा और मुर्गी आते हैं उस पर हम रोक लगाएंगे। चिंता की जरूरत नहीं है हम पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं

झालावाड़ में मंगलवार को 53 पक्षियों की मौत 

राजस्थान के झालावाड़ में पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक विक्रम सिंह ने कहा कि एपिसेंटर में लगभग 100 कौवे मर गए। इसके अलावा, मोर, कबूतर, और कोयाला मर गए हैं। कल, लगभग 53 पक्षियों की मौत हो गई। इसका  कारण बर्ड फ्लू हो सकता है।

मध्य प्रदेश : जिला स्तर पर निगरानी का आदेश

बर्ड फ्लू को लेकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान संबंधित विभागों के साथ बैठक की मध्य प्रदेश में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि बर्ड फ्लू को लेकर आज माननीय मुख्यमंत्री जी ने उच्चस्तरीय बैठक की और निर्देश दिया कि बर्ड फ्लू के पूरे मामले की जिला स्तर पर निगरानी हो। मध्य प्रदेश की सरकार इस पूरी स्थिति का जायज़ा ले रही है। मुख्यमंत्री  के निर्देश पर जिलों में रैंडम चेकिंग से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि पोल्ट्री फार्म में ये (बर्ड फ्लू) वायरस न फैले। अभी तक पोल्ट्री और मुर्गी में ये वायरस नहीं फैला है। खबर है कि केरल में खाने के पक्षियों में यह वायरस फैला है। मुख्यमंत्री का निर्देश है कि दक्षिण के राज्य केरल सहित जहां से भी सूबे में मुर्गी का आयात होता है उस पर निगरानी रखी जाए और हम सुनिश्चित करेंगे कि वायरस यहां कहीं भी न फैले।

केंद्र ने कंट्रोल रूम बनाया

राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और केरल में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद,भारत सरकार के पशुपालन और डेयरी विभाग ने राज्य के अधिकारियों से दैनिक आधार पर जानकारी लेने के लिए नई दिल्ली में एक कंट्रोल रूम स्थापित किया है।

इंदौर में 155 कौवों की मौत

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक हफ्ते पहले बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद से 155 कौवों की मौत की मौत हो गई है। वहीं राजस्थान में झालवार के बाद कोटा और बारां में पक्षियों को संक्रमित पाया गया है। हालांकि, अभी तक महाराष्ट्र में कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है,  जो मध्य प्रदेश के साथ सीमा साझा करता है।

हरियाणा : पिछले 10 दिनों में चार लाख से अधिक मुर्गियों की मौत

केरल में फ्लू के कारण लगभग 1,700 बत्तखों की मौत हो गई। हरियाणा के पंचकुला जिले में पिछले 10 दिनों में  चार लाख से अधिक मुर्गियों की मौत हो गई है। राज्य के पशुपालन और डेयरी विभाग ने कहा है कि इन पक्षियों की मौत का कारण एवियन इन्फ्लुएंजा है या नहीं? इसकी अभी कोई पुष्टि नहीं हुई है। एक आधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार इनके नमूने जालंधर में रिजनल डिजीज डायग्नोस्टिकलेब्रोटेरी को भेजे गए हैं। रिपोर्ट का अभी इंतजार है।

हिमाचल प्रदेश 2,700 प्रवासी पक्षी मृत पाए गए

हिमाचल प्रदेश के अधिकारियों ने कांगड़ा जिले के पोंग डैम झील अभयारण्य के आसपास के क्षेत्र का सर्वेक्षण किया, ताकि वहां पर घरेलू पक्षियों में फ्लू के प्रसार की जांच की जा सके। इससे एक दिन पहले मृत प्रवासी पक्षी बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए गए थे। समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार राज्य के पशुपालन अधिकारियों ने कहा कि अब तक 2,700 प्रवासी पक्षी इस झील क्षेत्र में मृत पाए गए हैं और इनके नमूने परीक्षण के लिए भेजे गए हैं।

केरल में पक्षियों को मारना शुरू

केरल में अलाप्पुझा और कोट्टायम में प्रभावित क्षेत्रों के एक-एक किलोमीटर के दायरे में पक्षियों को मारने का ऑपरेशन शुरू किया गया था। एक दिन पहले इन  दो जिलों में भोपाल में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाई सिक्योरिटी एनिमल डिसीज में नमूनों के परिणामों की पुष्टि हुई। अधिकारियों के अनुसार प्रशासन द्वारा गठित रैपिड रिस्पांस टीमों ने दिशा-निर्देशों के अनुसार बतख, मुर्गियों और अन्य घरेलू पक्षियों को मारना शुरू कर दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890