Cover

कोरोना के खिलाफ महाअभियान : देश के 736 जिलों में वैक्सीन वितरण का ड्राई रन आज, केंद्र का राज्यों को निर्देश

नई दिल्ली। देश के सभी 736 जिलों में शुक्रवार को वैक्सीन वितरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा। खुद स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन तमिलनाडु में जमीनी स्तर पर पूर्वाभ्यास का आंकलन करेंगे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने गुरुवार को राज्यों तक कोरोना की वैक्सीन पहुंचने के ठीक पहले देशव्यापी पूर्वाभ्यास की तैयारियों की समीक्षा की। राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों और प्रमुख अधिकारियों के साथ बैठक में हर्षवर्धन ने वैक्सीन के खिलाफ फैलाए जा रहे दुष्प्रचार पर चिंता जताते हुए कहा कि इससे टीकाकरण की तैयारियों को धक्का लग सकता है।

शुक्रवार को ड्राई रन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, शुक्रवार को देश के सभी 736 जिलों में वैक्सीन वितरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा। खुद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन तमिलनाडु में जमीनी स्तर पर पूर्वाभ्यास का आंकलन करेंगे। इसके पहले हर्षवर्धन ने वैक्सीन वितरण की तैयारियों के बारे में स्वास्थ्य मंत्रियों को बताया। उन्होंने कहा कि वैक्सीन वितरण के लिए हर जगह कोल्ड चेन प्रणाली तैयार कर ली गई है।

वैक्सीन लेने को रहें तैयार

पूरे देश में पूर्वाभ्यास के साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों को वैक्सीन हासिल करने के लिए तैयार रहने को कहा है। राज्यों को लिखे पत्र में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि वैक्सीन की डिलीवरी किसी भी समय शुरू की जा सकती है। वैक्सीन के भंडारण के लिए करनाल, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में चार मेगा स्टोर बनाए गए हैं। इसके अलावा राज्यों में 37 बड़े स्टोर तैयार किए गए हैं।

लाभार्थियों की संख्या के आधार पर आपूर्ति

जिला स्तर पर वैक्सीन की सप्‍लाई पंजीकृत लाभार्थियों की संख्या के आधार पर की जाएगी। इन लाभार्थियों की सूची को-विन प्लेटफार्म पर होगी और लाभार्थियों को वैक्सीन लगने के समय और स्थान की सूचना एसएमएस से पहले ही दे दी जाएगी। को-विन प्लेटफार्म के माध्यम से हर जिले में पंजीकृत लाभार्थियों की संख्या और वैक्सीन की उपलब्धता पर नजर रखी जाएगी और उसी के अनुरूप वैक्सीन की सप्लाई सुनिश्चित की जाएगी।

कर्मचारियों का प्रशिक्षण पूरा

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री की मानें तो वैक्सीन लगाने के लिए सीरिंज एवं अन्य सामान के साथ-साथ उसे लगाने, रखने और लाने-ले जाने वालों का प्रशिक्षण पूरा हो चुका है। को-विन प्लेटफार्म का कई बार परीक्षण हो चुका है। को-विन से कंपनी से वैक्सीन निकलने, विभिन्न कोल्ड चेन तक पहुंचने, लाभार्थियों को लगने और उसके बाद उसके फॉलोअप की पूरी प्रक्रिया पर ऑनलाइन नजर रखी जा सकेगी। इस प्लेटफार्म पर वैक्सीन लगाने वालों को क्यूआर कोड के साथ डिजिटल सर्टिफिकेट भी मिलेगा।

जारी रखें सार्वभौमिक टीकाकरण

वैक्सीन वितरण के दुनिया के सबसे बड़े अभियान के बावजूद हर्षवर्धन ने राज्यों को पहले से चल रहे सार्वभौमिक टीकाकरण अभियान को जारी रखने को कहा है। सार्वभौमिक टीकाकरण अभियान के तहत 2.67 करोड़ बच्चों और 2.9 करोड़ गर्भवती महिलाओं को 12 वैक्सीन मुफ्त में लगाई जाती हैं।

वैक्सीन के परिवहन के लिए यह रहेगी व्‍यवस्‍था

सरकार ने कोविड वैक्सीन के परिवहन के लिए देश में कई मिनी हब बनाए हैं। सूत्रों का कहना है कि देश में कुल 41 गंतव्यों (हवाई अड्डों) पर टीके की डिलीवरी होगी। उत्तर भारत में दिल्ली और करनाल, पूर्वी क्षेत्र में कोलकाता और गुवाहाटी, पूर्वोत्तर के लिए गुवाहाटी मिनी हब होंगे। दक्षिणी भारत के लिए चेन्नई और हैदराबाद नामित प्‍वाइंट होंगे। मालूम हो कि देश में ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया की ओर से दो टीकों भारत बायोटेक की कोवैक्‍सिन और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशिल्ड को मंजूरी दी गई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890