Cover

सेवा शर्तों के अपडेट पर विवाद, वाट्सएप प्रमुख ने ट्वीट कर दी सफाई, कहा- यह केवल पारदर्शिता बढ़ाने के लिए

नई दिल्ली। प्राइवेसी पॉलिसी और ट‌र्म्स ऑफ सर्विस (सेवा की शर्ते) के अपडेट पर विवाद के बाद मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वाट्सएप (WhatsApp) ने सफाई दी है। फेसबुक (Facebook) के स्वामित्व वाले वाट्सएप ने कहा कि नई पॉलिसी में डाटा शेयरिंग (Data-Sharing) के तरीके में कोई बदलाव नहीं होने जा रहा है। हाल ही में वाट्सएप (WhatsApp) ने अपने यूजर्स को नोटिफिकेशन भेजकर प्राइवेसी पॉलिसी (Privacy Policy of WhatsApp) और ट‌र्म्स ऑफ सर्विस (Tours of Service of WhatsApp)के अपडेट के बारे में बताया था।

यूजर्स को स्‍वीकारना होगा नई नीति

इसमें बताया गया है कि यूजर्स का डाटा किस तरह से प्रोसेस किया जाता है और फेसबुक से किस तरह साझा किया जाता है। वाट्सएप का प्रयोग करते रहने के लिए यूजर्स को आठ फरवरी तक नई पॉलिसी और शर्तों को स्वीकारना होगा। यह नोटिफिकेशन आते ही इंटरनेट पर इस संबंध में चर्चा छिड़ गई। लोग इसे वाट्सएप की ओर से प्राइवेसी में सेंध की कोशिश बता रहे हैं।

तेजी से बढ़ी यूजर्स की संख्या

कहा जा रहा है कि वाट्सएप यूजर्स की जानकारियां फेसबुक से शेयर करेगा। इस चर्चा के बाद से अन्य मैसेजिंग प्लेटफॉर्म जैसे सिग्नल और टेलीग्राम पर यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ी है। टेस्ला के प्रमुख एलन मस्क ने भी लोगों से वाट्सएप छोड़ने की अपील की है। इन चर्चाओं को देखते हुए वाट्सएप के प्रमुख विल कैथकार्ट ने एक के बाद एक ट्वीट कर अपना पक्ष रखा

ज्यादा पारदर्शिता के लिए कवायद

वाट्सएप के प्रमुख विल कैथकार्ट ने कहा कि कंपनी ने ज्यादा पारदर्शिता के लिए प्राइवेसी पॉलिसी को अपडेट किया है। इसमें केवल प्लेटफॉर्म के बिजनेस कम्युनिकेशन को विस्तार से समझाया गया है। इससे फेसबुक के साथ वाट्सएप की डाटा शेयरिंग में कोई बदलाव नहीं होने जा रहा। इससे इस बात पर भी कोई फर्क नहीं पड़ेगा कि लोग एक दूसरे से कैसे बात करते हैं।

टेलीग्राम के सीईओ ने लगाए आरोप

कैथकार्ट ने जोर देकर कहा कि वाट्सएप में एंड-टु-एंड एनक्रिप्शन (ई2ई) का इस्तेमाल होता है, जिस कारण से किसी भी निजी चैट या कॉल की जानकारी बाहर नहीं आ सकती है। वाट्सएप ने ई2ई के लिए आगे भी प्रतिबद्धता जताई है। कैथकार्ट ने कहा कि प्राइवेसी के मामले में प्रतिस्पर्धा का माहौल है और यह दुनिया के लिए अच्छा है। उनके ट्वीट पर लोगों की मिलीजुली प्रतिक्रिया आई है। इस बीच, टेलीग्राम के संस्थापक व सीईओ पावेल डुरोव ने वाट्सएप पर टेलीग्राम के खिलाफ गलत बातें फैलाने का आरोप लगाया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890