Cover

29843.55 लाख की अनुमानित कीमत से बनेगा मेडिकल कॉलेज राष्ट्र चंडिका सिवनी । सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोले जाने के लिए कार्यालय संभागीय परियोजना यंत्री लोक निर्माण विभाग परियोजना क्रियान्वयन इकाई सिवनी निर्माण भवन के द्वारा निविदा क्रमांक 123214 जारी की गई है जिसमे मेडिकल कॉलेज के भवन निर्माण के लिए पात्रता रखने वाली फर्मो से निविदा आमंत्रित की गई है । बताया जाता है कि भवन निर्माण की अनुमानित लागत 29843.55 लाख है जिसके लिए 50 लाख अमानत राशि रखी गई है। जिसके लिए 14 जनवरी से 6 फरवरी तक निविदा प्रपत्र खरीदा जा सकता है। गौरतलब है कि मेडिकल कॉलेज के लिए कंडीपार में भूमि आरक्षित की गई है जहां बाउंड्री वाल का निर्माण कार्य भी हो चुका है। मेडिकल की शर्त पर मुनमुन ने थामा था भाजपा का दामनयाद दिला दे कि 2013 के विधान सभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में दिनेश राय मुनमुन ने चुनाव लड़ा था जो निर्दलीय विधायक बने और मेडिकल कॉलेज खोले जाने के प्रयास तेज कर दिए। 03 मई 2018 को दिनेश राय को भाजपा की सदस्यता दिलाई जा रही थी तब उन्होंने सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोले जाने सहित कुछ और शर्त रखा था जिसे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मान लिया था तब दिनेश राय मुनमुन ने भोपाल में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ले लिया था जिसके 2 दिन बाद 5 मई को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सिवनी आए थे। पॉलिटेक्निक मैदान में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोले जाने की घोषणा किया था जो दिनेश राय मुनमुन की पहली सफलता मानी जा रही थी। हालांकि राजनीतिक लोग इसे महज घोषणा ही मान कर चल रहे थे लेकिन 6 अगस्त 2018 को मध्य प्रदेश की सरकार ने कैबिनेट की बैठक में सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोलने की स्वीकृति दे दिया था । 07 अगस्त 2018 को जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आशीर्वाद यात्रा के दौरान सिवनी पहुंचे थे तो उन्होंने सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोले जाने की अधिकृत रूप से पुष्टि कर दिया था जिसके बाद सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोले जाने के लिए भूमि का चयन प्रारंभ कर दिया गया था। सिवनी में मेडिकल कॉलेज की घोषणा के साथ ही डीन के रूप में डॉक्टर रज़ा को जिम्मेदारी सौपी गई थी जिन्होंने तत्कालीन कलेक्टर गोपाल चन्द्र डांड ,विधायक दिनेश राय मुनमुन सहित अन्य अधिकारियों के साथ मेडिकल कॉलेज के लिए भूमि तलाशना शुरू किया और बाद में कंडीपार में भूमि की तलाश खत्म हुई। उक्त भूमि में बाउंड्री वाल निर्माण के लिए टेंडर जारी किए गए और बाउंड्री वाल का निर्माण कर दिया गया। 05 अक्टूबर 2018 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सिवनी पहुंचे तो उन्होंने मेडिकल कॉलेज के लिए भूमि पूजन किया और 06 अक्टूबर2018 को आचार संहिता लागू हो गई जिसके बाद मेडिकल का काम कछुआ गति से होने लगा। बाद में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बन गई तो 14 महीने तक सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोले जाने संबंधित ना तो कोई फाइल आगे बढ़ी और ना ही कोई चर्चा हुई बाद में जब पुन:भाजपा की सरकार बनी तो सिवनी विधायक दिनेश राय मुनमुन भाजपा के जिला अध्यक्ष आलोक दुबे ने पुन: प्रयास किये जिसके बाद सिवनी में मेडिकल कॉलेज के लिए टेंडर आमंत्रित किया गया है। सिवनी में मेडिकल कॉलेज खोले जाने के लिए टेंडर जारी होने के बाद अब लोगों के भीतर विश्वास जाग गया है और सिवनी को मेडिकल कॉलेज के रूप में एक बड़ी सौगात मिलने का रास्ता खुल गया है। मेडिकल कॉलेज के लिए टेंडर जारी होने के बाद सिवनी विधायक दिनेश राय मुनमुन को लोगों ने बधाई देना शुरू कर दिया वहीं सोशल मीडिया में मेडिकल कॉलेज के लिए प्रयास करने वाले सभी लोगों को बधाई देने का सिलसिला चल रहा है।

बेंगलुरू। केंद्रीय मंत्री व गोवा के सांसद श्रीपद नाइक और उनकी पत्नी कर्नाटक में सोमवार को गंभीर रूप से कार दुर्घटना के शिकार हो गए। इसमें उनकी पत्‍नी विजया नाइक और सहयोगी की मौत हो गई। उत्तर कन्नड़ के एसपी शिवप्रकाश देवराजू ने कहा कि केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक के निजी सहायक की भी हादसे में मौत हो गई है। उनकी कार उत्तरा कन्नड़ के अंकोला तालुक में एक गांव के पास दुर्घटना का शिकार हो गई। जब ये घटना घटी, उस समय वे येलापुर से गोकरन के रूट पर थे। कर्नाटक के मुख्यमंत्री कार्यालय ने बयान जारी कर कहा कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक की पत्नी विजया नाइक के निधन पर शोक व्यक्त किया। श्रीपद नाइक को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। श्रीपाद नाइक को गोवा के अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। श्रीपाद नाइक केंद्रीय रक्षा राज्य और आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी मंत्री हैं।

उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत से गोवा में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद नाइक के इलाज की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए बात की है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत से बात की और उन्हें सर्वश्रेष्ठ उपचार प्रदान करने के लिए कहा। उन्‍होंने कहा कि यदि आवश्यकता हो तो केंद्रीय मंत्री श्रीपाद नाइक को दिल्ली के लिए शिफ्ट किया जाए। सीएम प्रमोद सावंत अस्‍पताल पहुंच गए हैं

इलाज के बाद श्रीपद नाइक की हालत स्थिर है और वह सचेत हैं। बताया जा रहा है कि श्रीपद नाइक की कार में छह लोग सवार थे। जिस समय यह हादसा हुआ उस समय दोनों लोग कहीं जा रहे थे। यह हादसा कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले के अकोला में हुआ है, उस दौरान श्रीपद नाइक पत्नी के साथ कहीं जा रहे थे। बताया जाता है कि हादसे के बाद श्रीपद नाइक की पत्नी बेहोश थीं। उन्हें काफी देर तक होश नहीं आया। उनकी पत्नी ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890