Cover

अर्नब के बहाने महबूबा मुफ्ती ने फिर बालाकोट स्ट्राक पर उठाए सवाल

जम्मू: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी के बहाने एक बार फिर से पुलवामा हमले के बाद बालाकोट एयर स्ट्राइ पर सवाल उठाए हैं। महबूबा ने सोशल साइट ट्वीटर पर लिखा कि वर्ष 2019 में जिस किसी ने भी बालकोट स्ट्राइक के समय पर सवाल उठाए, उसी की निंदा की गई और उसे राष्ट्र विरोधी करार दे दिया गया। लेकिन अब यह साफ हो गया है जो हम कहते थे, वही सही था।

यह एक राजनीतिक दल को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया थाा। पुलवामा के शहीदों का बदला लेने के लिए नहीं किया गया था। अगर ऐसा न होता तो जब लद्दाख में गलवन घाटी में हमारे बीस सैनिक शहीद हो गए थे तो चीन के खिलाफ भी ऐसी ही कार्रवाई होती। कौन जानता है कि अगर उस समय भी चुनाव नजदीक होते तो सरकार की क्या कर्रवाई होती।

महबूबा ने सरकार पर तंज कसते हुए लिखा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों को सिर्फ टीआरपी तमाशा बनाकर रख दिया गया है ताकि भाजपा को लाभ मिले और गलत तस्वीर पेश की जाए।लोगों को फर्जी खबरों पर विश्वास करने का महौल बना दिया जाता है। देश के भीतर और बाहर काल्पनिक दुश्मनों से नफरत की जाती है। राष्ट्र जानना चाहता है कि इसकी कीमत कौन चुकाएगा।

महबूबा ने लिखा कि जब केंद्र सरकार ने जुलाई 2019 में कश्मीर में लाखों सुरक्षाबलों को तैनात किया और पर्यटकों को बाहर निकाला तो इसका कारण पाकिस्तान द्वारा आतंकी घटना को अंजाम देना बताया। लेकिन अब सच भाजपा के चहेते एंकर ने बता दिया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.