Cover

उत्तर प्रदेश MLC चुनाव 2021: निर्दलीय महेश चंद्र शर्मा ने बढ़ाया विधान परिषद चुनाव का रोमांच, 13वें प्रत्याशी के रूप में किया नामांकन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान परिषद की 12 सीटों के लिए 28 जनवरी को होने वाले चुनाव का रोमांच बढ़ गया है। नामांकन के अंतिम दिन आज यानी सोमवार को भाजपा के दस प्रत्याशियों के पर्चा दाखिल करने के बाद महेश चंद्र शर्मा ने भी अपना नामांकन पत्र दाखिल किया है। महेश चंद्र शर्मा ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन किया है।

विधान परिषद की 12 सीट पर होने वाले चुनाव के लिए आज अंतिम दिन तीन बजे तक नामांकन हो सकता है। महेश चंद्र शर्मा ने करीब 12:30 बजे नामांकन पत्र दाखिल किया है। इस तरह से 12 सीट पर होने वाले चुनाव में 13वें नामांकन ने चुनाव का रोमांच बढ़ा दिया है। अभी नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी, जिसके बाद ही चुनाव की तस्वीर साफ हो पाएगी पर यदि महेश चन्द्र शर्मा का पर्चा खारिज नहीं होता है तो फिर चुनाव कराना आवश्यक हो जाएगा। अबतक ये माना जा रहा था कि जिस तरह से भाजपा ने दस और समाजवादी पार्टी ने अपने दो प्रत्याशियों का नामांकन पत्र दाखिल कराया है उससे चुनाव कराने की जरूरत नहीं पडे़गी और निर्विरोध प्रत्याशी विधान परिषद सदस्य बन जाएगें। पर अब राजनीतिक दलों का गणित बिगड़ सकता है

भाजपा के दस तथा समाजवादी पार्टी के दो प्रत्याशियों के बाद एक निर्दलीय के नामांकन से अब 13 प्रत्याशी मैदान में हैं। महेश चंद्र शर्मा के नामांकन करने से विधान परिषद चुनाव में उठा-पटक भी बढ़ेगी और समाजवादी पार्टी के दूसरे प्रत्याशी के लिए खतरा भी हो सकता है। महेश चंद्र शर्मा ने भी आज 13 वें उमीदवार के रूप में पर्चा भरा। महेश चंद्र शर्मा ने इससे पहले भी विधान परिषद चुनाव में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया था। यह वही महेशचन्द्रशर्मा हैं जो पहले भी कई बार इस तरह के चुनाव में अपना नामांकन दाखिल कर चुके हैं। राज्यसभा से लेकर विधान परिषद तथा में वह नामांकन दाखिल कर चुके हैं। एक बार वह अटल विहारी वाजपेयी के खिलाफ भी चुनाव में अपना पर्चा दाखिल कर चुके हैं। इनके पास प्रस्तावक नहीं है

इससे पहले दिन में करीब 12 बजे भाजपा के दस प्रत्याशियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की मौजूदगी में विधान भवन में नामांकन पत्र दाखिल किया। समाजवादी पार्टी के अहमद हसन के साथ राजेंद्र चौधरी ने बीते शुक्रवार को ही अखिलेश यादव के नेतृतव में नामांकन दाखिल किया था। नामांकन की अंतिम तिथि 18 नवंबर को दाखिल सभी पर्चों की दो दिन जांच होगी। 21 को नामांकन पत्र वापस लेने का अंतिम दिन है। संख्या अगर 13 ही रहती है तो फिर 28 जनवरी को सुबह दस बजे से मतदान होगा और शाम को पांच बजे तक परिणाम घोषित होगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890