Cover

एडेड जूनियर हाईस्कूल में प्रिंसिपल व सहायक शिक्षक भर्ती के लिए अलग-अलग होगी लिखित परीक्षा

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के 3049 अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) जूनियर हाईस्कूल के लिए शिक्षक भर्ती के लिए लिखित परीक्षा होगी। प्रधानाध्यापक के 390 और सहायक अध्यापक के 1504 सहित कुल 1894 पदों के लिए चयन होगा। यूपी सरकार ने दोनों की परीक्षाएं अलग-अलग कराने का आदेश दिया है। ढाई घंटे की परीक्षा में कुल 150 सवाल पूछे जाएंगे। इम्तिहान कराने का जिम्मा परीक्षा नियामक प्राधिकारी उत्तर प्रदेश प्रयागराज को सौंपा गया है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने चार दिसंबर, 2019 को उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त बेसिक स्कूल (जूनियर हाईस्कूल अध्यापकों की भर्ती और सेवा की शर्तें) के सातवें संशोधन को मंजूरी दी थी। लेकिन, भर्ती के नियम व पाठ्यक्रम आदि स्पष्ट नहीं थे। परीक्षा संस्था ने इस संबंध में पत्र भेजा, अब कुछ बिंदुओं को स्पष्ट किया गया है, जबकि कई बिंदुओं का जवाब अब भी स्पष्ट नहीं है।

विशेष सचिव आरबी सिंह की ओर से भेजे आदेश में कहा गया है कि अधियाचन शिक्षा निदेशक बेसिक की ओर से भेजा जा चुका है। न्यूनतम शैक्षिक योग्यता सातवें संशोधन में स्तंभ दो व प्रस्तर चार के अनुसार होगी। निवास व आयु के संबंध में नियमावली के स्तंभ दो व प्रस्तर आठ का उल्लेख किया गया है।

ओएमआर पर बहुविकल्पीय होंगे प्रश्न : भर्ती परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे, इम्तिहान ओएमआर से कराया जाएगा। दोनों पदों के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा से उच्च स्तर की परीक्षा होगी। प्रधानाध्यापक के लिए परीक्षा में प्रश्नपत्र का कठिनाई स्तर स्नातक होगा।

प्रधानाध्यापक के लिए पांच साल का अनुभव, प्रबंधन के होंगे 50 सवाल : प्रधानाध्यापक पद के लिए पांच वर्ष सहायक अध्यापक के रूप में अध्यापन अनुभव अनिवार्य है। साथ ही अभ्यर्थियों को विद्यालय प्रबंधन का भी ज्ञान होना चाहिए। परीक्षा में प्रबंधन से संबंधित 50 प्रश्न पूछे जाएंगे। इसकी अवधि एक घंटे होगी, यह इम्तिहान सामान्य प्रश्नपत्र के बाद कराया जाएगा। दोनों पदों के लिए अलग-अलग आवेदन लिए जाएंगे, किंतु जो अभ्यर्थी दोनों पदों के लिए आवेदन करना चाहता है उसे एक ही आनलाइन आवेदन में दोनों प्रश्नपत्रों के चयन की सुविधा दी जाएगी, वहीं दोनों का परीक्षा शुल्क अलग-अलग देना होगा। यह भी निर्देश है कि दोनों पद की एक ही दिन में अलग-अलग परीक्षा कराई जाए

भर्ती का कटआफ अंक भी तय : भर्ती परीक्षा का उत्तीर्ण अंक तय कर दिया गया है। सामान्य वर्ग का 65 व आरक्षित वर्ग का 60 प्रतिशत रहेगा। उप्र मान्यता प्राप्त बेसिक स्कूल (जूनियर हाईस्कूल) अध्यापक भर्ती व सेवा नियमावली 1978 सातवां संशोधन के अनुसार मेरिट तैयार की जाएगी। ढाई घंटे की परीक्षा में 150 प्रश्नों का जवाब देना होगा।

अब आवेदन की समय सारिणी : भर्ती संस्था से इसकी परीक्षा कराने के लिए जल्द कार्यवाही करने की अपेक्षा की गई है। परीक्षा संस्था के सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने बताया कि अब आवेदन की समय सारिणी व परीक्षा तारीख आदि तय करके शासन को भेजेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.