Cover

पाक गोलीबारी के बीच अखनूर सेक्टर में आतंकी घुसपैठ का प्रयास, 3 आतंकवादी ढेर, 4 जवान घायल

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में सीमा की सुरक्षा में तैनात भारतीय जवानों ने एक बार फिर पाकिस्तान की नापाक साजिशों को नाकाम बना दिया है। रात के अंधेरे में गोलीबारी की आड़ में आतंकवादियों की भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ कराने के इरादे से पाकिस्तान ने देर रात अखनूर-सुंदरबनी के बीच पड़ने वाले खौड़ सेक्टर में अचानक से गोलीबारी शुरू कर दी। परंतु सतर्क भारतीय जवानों ने न सिर्फ पाकिस्तानी सैनिकों की इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया बल्कि घुसपैठ की कोशिश कर रहे तीन आतंकवादियों इस ओर आने से पहले ही ढेर कर दिया। हालांकि दो आतंकवादी इस बीच बचकर निकल भागे। वहीं पाकिस्तान की इस गोलीबारी में हमारे चार जवान घायल भी हुए हैं। घायलों का इलाज सैन्य अस्पताल में चल रहा है।

नए जम्मू-कश्मीर में बदलते हालात और यहां का शांत माहौल हमारे दुश्मन पड़ोसी देश को रास नहीं आ रहा है। वह यही साजिशें रचने में लगा हुआ है कि किसी तरह आतंकवादियों को जम्मू-कश्मीर में प्रवेश करवाया जाए ताकि दमतोड़ रहे आतंकवाद को फिर से बढ़ावा मिले। आतंकी हमलों में वृद्धि लाए जाए। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों को पहले ही पाकिस्तानी सैनिकों व गुलाम कश्मीर में बैठे आतंकी संगठनों के आकाओं के इन मंसूबों की भनक लग गई थी। सुरक्षा एजेंसियों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस समेत बीएसएफ और सेना को इस बारे में सचेत कर दिया था। आतंकवादी गणतंत्र दिवस की खुशियों में किसी तरह का खलल न डालें इसी लिए सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है। सीमा से सटे इलाकों में चौकियों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। रोजाना तलाशी अभियान भी चलाए जा रहे हैं।

एक सैन्य अधिकारी ने बताया कि मंगलवार की रात को पाकिस्तानी सैनिकों ने खौड़ सेक्टर में अचानक से भारतीय चौकियों को निशाना बनाते हुए गोलीबारी का सिलसिला शुरू कर दिया। भारतीय जवान भी सतर्क थे। उन्होंने भी जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी। उन्हें शक था कि अचानक से की जा रही इस गोलीबारी के पीछे आतंकी घुसपैठ का इरादा है। लिहाजा जवानों ने सीमा पर नजर गढ़ा दी। इस बीच पांच घुसपैठियों को रात के अंधेरे में छुपते-छिपाते भारतीय सीमा की ओर आते देखा गया। इससे पहले कि पांचों आतंकवादी भारतीय सीमा पर प्रवेश करते जवानों ने तीन आतंकवादियों को वहीं ढेर कर दिया।

अपनी योजना को नाकाम होता देख पाकिस्तानी सैनिकों ने भी उसी ओर फायरिंग शुरू कर दी जहां से आतंकवादियों को निशाना बनाया जा रहा था। इस दौरान चार भारतीय जवान घायल हो गए जबकि दो आतंकवादी सुरक्षित वापस भागने में सफल रहे। घायल जवानों को तुरंत सैन्य अस्पताल पहुंचाया गया। उनका इलाज चल रहा है। हालत बेहतर बताई जा रही है। सूत्रों ने बताया कि गोलीबारी का यह सिलसिला करीब तीन घंटे तक चला। योजना नाकामयाब होने पर पाकिस्तानी सैनिकों ने कुछ और देर फायरिंग की परंतु उसके बाद उन्होंने अपनी बंदूके शांत कर दी।

सैन्य सूत्रों का कहना है कि मारे गए तीनों आतंकवादियों के शव अभी भी सीमा पार पड़े हुए दिखाई दे रहे हैं। पाकिस्तानी सैनिकों ने अभी तक उन्हें उठाने की कोशिश नहीं की है। वहीं सैन्य अधिकारियों ने एक बार फिर सभी जवानों से सीमा पर चौकसी बढ़ाने के लिए कहा है। उनका कहना है कि आने वाले दिनों में पाकिस्तान इसी तरह सीजफायर उल्लंघन की आड़ में घुसपैठ की काेशिश को तेज करेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.