Cover

महंत बजरंग मुनि बोले, ‘लव सनातन’ की चलेगी देशव्‍यापी मुहिम

प्रयागराज। राष्ट्र से हमारी पहचान होती है। जबकि धर्म से हमारा अस्तित्व है। हर व्यक्ति की पहचान उसके धर्म से होती है। धर्म-विहीन व्यक्ति पशु के समान होता है। श्रीपंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा के महंत बजरंग मुनि ने उक्त बातें कही। कहा कि हिंदुओं को सनातन धर्म के प्रति कट्टर व जवाबदेह होना चाहिए। इसके लिए देशभर में ‘लव सनातन’ की मुहिम चलाई जाएगी। लव सनातन के जरिए हिंदुओं को उनके गौरवपूर्ण धर्म के मर्म से जोड़कर कट्टर बनाया जाएगा। बोले, हिंदुओं को असहाय नहीं, बल्कि सिख समुदाय की तरह लड़ाका व धर्म के प्रति समर्पित बनने की जरूरत है।

महंत बजरंग मुनि ने कहा कि देश के अलग-अलग प्रदेशों में हिंदुओं के ऊपर अत्याचार हो रहा है। इसके पीछे  हिंदुओं का आपसी विघटन व भिन्न-भिन्न विचारधारा प्रमुख कारण है। बोले, जहां हिंदू अल्पसंख्यक होता है, वहां खुद को असहाय मानकर अत्याचार सहता है। जबकि जहां हिंदू बहुसंख्यक होते हैं वहां धर्म-निर्पेक्षता व भाईचारा की बात करने लगते हैं। यह भावना खत्म करने की जरूरत है। अगर हिंदू की बहन-बेटी के साथ ‘लव जिहाद’ होता है तो वह शांत न बैठें बल्कि उसी रूप में जवाब दें। अगर कोई मार-पीट करता है तो उसको उसी भाषा में जवाब देना सीखें, यह भावना जागृत करके ही हिंदू व हिंदुत्व की रक्षा की जा सकती है, अन्यथा अपने देश में ही गुलाम बनकर रह जाएंगे।

युवाओं की बनेगी टोली

महंत बजरंग मुनि ने कहा कि ‘लव सनातन’ मुहिम में जिला स्तर पर युवाओं की टोली बनाई जाएगी। जो हर परिस्थिति में खुद का सर्वस्व न्यौछावर करने को तैयार रहेंगे। इस टोली में हिंदुओं के हर वर्ग के लोगों को शामिल किया जाएगा। जबकि धर्माचार्य उनका मार्गदर्शन करेंगे।

देववाणी संस्कृत की दशा सुधारने की चलेगी मुहिम

देववाणी संस्कृत व उसके विद्यालयों की दयनीय दशा पर महंत बजरंग मुनि ने चिंता व्यक्त की। कहा कि जैसे मदरसों में कुरआन का पाठ कराया जाता है। वैसे ही ‘लव सनातन’ की टीम हिंदू बच्चों को वेद, पुराण व संस्कृत पढऩे को प्रेरित करेगी। संस्कृत विद्यालयों में शिक्षकों व कर्मचारियों के खाली पद भरे जाएं उसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर उचित कदम उठाने की मांग की जाएगी।

हिंदुओं के हित में होगा संघर्ष

महंत बजरंग मुनि ने कहा कि देश में कहीं हिंदू प्रताडि़त किया जाएगा तो उसकी मदद के लिए लव सनातन की टीम आगे आएगी। टीम के सदस्य उन्हें सामाजिक, धार्मिक व कानूनी रूप से हर संभव मदद देगी। जरूरत पडऩे पर संघर्ष भी किया जाएगा।

योगी देश के सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री

महंत बजरंग मुनि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को देश का सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री का दर्जा देते हैं। वह कहते हैं कि संन्यासी के रूप में उन्होंने राजसत्ता का सफलतापूर्वक संचालन किया है। प्रदेश के गरीब, पिछड़े व मजलूमों को अधिकार-सम्मान दिलाने के लिए योगी पूरे समर्पण से काम कर रहे हैं। कोरोनाकाल में उन्होंने जनहित में दिन-रात काम किया है, जिसके कारण जनता संक्रमण से बच सकी। उन्होंने 1956 में लागू हुए गोवध निवारण अधिनियम में बदलाव कर सजा को सख्त करने का सराहनीय निर्णय लिया है। कहा कि योगी ने गोकशी करने वाले को दस वर्ष की कैद व पांच लाख रुपये जुर्माना लगाने का नियम बनाया है। साथ ही यूपी में गोकशी और गोतस्करी से जुड़े अपराधियों के फोटो भी सार्वजनिक रूप से चस्पा किए जाएंगे। यह निर्णय स्वागत योग्य है। गोवध रोकने के लिए योगी का फार्मूला पूरे देश में लागू करने की जरूरत है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890