Cover

राजस्थान में सियासी ड्रामे के बीच चल रही ये साजिश, गहलोत-पायलट के झगड़े का कौन उठा रहा फायदा

राजस्थान में साजिश के आरोप प्रति आरोप सामने आ रहे हैं। जो खुद सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पुलिस द्वारा लगाए जा रहे हैं। उनका कहना है कि राज्य में सरकार गिराने की बड़ी साजिश रची जा रही है। अशोक गहलोत ने आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली में बैठे BJP के केंद्रीय नेता कोरोना काल में भी उनकी सरकार को गिराने के लिए साजिश रच रहे हैं।
 
साजिश रचने वाले नेताओं को किया गया गिरफ्तार …
जिसके चलते अब गहलोत सरकार गिराने की साजिश करने वालों में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के दो नेताओं को गिरफ्तार भी किया है। इन पर कांग्रेस के विधायकों को प्रलोभन देने का आरोप है। वहीं, बीजेपी के बहाने राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आमने-सामने आ गए हैं।
 
सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री पद से हटाया जा सकता है … 
राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने अपनी सरकार गिराने की साजिश का खुलासा करने का दावा करते हुए कहा कि जब एक बार मुख्यमंत्री बन गया, तो बाकी लोगों को शांत हो जाना चाहिए और काम करना चाहिए। गहलोत का इशारा पायलट की तरफ था, माना जा रहा है कि इस कार्रवाई के जरिए अशोक गहलोत सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री पद से हटाने का दबाव भी आलाकमान पर बना सकते हैं। इसके चलते राजस्थान की राजनीति में बवाल मचा हुआ है।
 
CM और DCM के बयान दर्ज करेगी SOG …
जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले 10 जुलाई को SOG ने यह खुलासा करते हुए मुकदमा दर्ज किया कि ब्यावर के रहने वाले BJP के एक स्थानीय नेता भरत मालानी और उदयपुर के क्षत्रिय महासभा के उपाध्यक्ष अशोक सिंह ने दो मोबाइल नंबरों से कांग्रेस के नेताओं से संपर्क करने की कोशिश की है
वहीं, BJP के दो नेताओं को गिरफ्तार करने के बाद SOG अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट का भी बयान दर्ज करेगी। इसके लिए SOG ने गहलोत और पायलट से समय भी मांगा है। उधर BJP का आरोप है कि यह कांग्रेस का अंदरूनी झगड़ा है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट में झगड़ा चल रहा है, जिसकी वजह से जबरदस्ती लोग BJP को घसीट रहे हैं।
 
निर्दलीय विधायक से BJP नेता की बातचीत की गई टेप, कौन उठा रहा फायदा …
वहीं बांसवाड़ा के कुशलगढ़ की निर्दलीय विधायक रमिला खड़िया से BJP नेता की बातचीत टेप की गई है, जिनमें ये कह रहे हैं कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट में झगड़ा चल रहा है। अब सचिन पायलट राजस्थान के मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं, लिहाजा विधायकों के खरीद-फरोख्त से हम अच्छी कमाई कर सकते हैं।
 
ACB ने 3 विधायकों के खिलाफ दर्ज की शिकायत …
इसके अलावा एंटी करप्शन ब्यूरो ने 3 निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुड़ला, निर्दलीय विधायक सुरेश टांक और कांग्रेस विधायक सुखबीर सिंह जोजावर के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। इन तीनों पर आरोप है कि उन्होंने बांसवाड़ा में विधायकों को खरीदने की कोशिश की। राजस्थान पुलिस के SOG के ADG अशोक राठौड़ ने बताया कि मामले की तहकीकात की जा रही है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.