Cover

जाली दस्तावेजों पर उत्तराखंड, सिक्किम और हिमाचल से पाकिस्तान के साथ अन्य देश भेजे गए थे व्यक्ति, ऐसे खुला मामला

देहरादून। सेना के जाली दस्तावेज बनाकर व्यक्तियों को अफगानिस्तान, पाकिस्तान, दुबई और इराक भेजने के मामले में नई परतें खुली हैं। आरोपितों से मिले दस्तावेजों की जांच में पता चला है कि इन देशों में अधिकतर लोग जिन प्लेसमेंट एजेंसियों से भेजे गए, वो उत्तराखंड, सिक्किम और हिमाचल प्रदेश की हैं। स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) इन प्लेसमेंट एजेंसियों से भेजे गए 225 व्यक्तियों की जांच कर रही है। ये व्यक्ति शक के दायरे में हैं।

एसटीएफ के हाथ लगे दस्तावेजों से पता चला है कि फर्जी तरीके से अफगानिस्तान, पाकिस्तान, दुबई और इराक भेजे गए अधिकतर लोग नेपाल मूल के हैं। इस मामले में एसटीएफ ने दस्तावेजों को सत्यापन के लिए मेरठ स्थित आर्मी इंटेलीजेंस कार्यालय भेज दिया है। सत्यापन के बाद ही पता चलेगा कि कितने लोग सही और कितने फर्जी ढंग से इन देशों में गए हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि आर्मी इंटेलीजेंस व अन्य एजेंसियों को भेजे गए दस्तावेजों की रिपोर्ट अब तक नहीं आई है। रिपोर्ट आने के बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी।

एसटीएफ ने बीती 21 जनवरी को इस गिरोह का पर्दाफाश किया था, जो जाली दस्तावेज तैयार कर व्यक्तियों को विदेश भेजता था। वहां उन्हें सेना के जाली दस्तावेजों की मदद से सिक्योरिटी एजेंसियों में नौकरी दिलाई जाती थी। पुलिस ने इस मामले में सेना से रिटायर्ड कर्मी समेत तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया था। आरोपितों के घर से सेना से संबंधित दस्तावेज, 20 मुहर और सेना की 90 डिस्चार्ज बुक बरामद की गई थीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890