Cover

बिल गेट्स, एलन मस्क, बराक ओबामा समेत कई लोगों के ट्विटर हैंडल हैक, बिटकॉइन स्कैम की कोशिश

वाशिंगटन।  अमेरिका के कई बड़े लोगों के ट्विटर अकाउंट हैक कर लिए गए।  बुधवार को हैकरों ने जिनके ट्विटर अकाउंट को हैक किया, उनमें माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स, टेस्ला के सीईओ इलॉन मस्क, अमेरिकी रैपर कान्ये वेस्ट, अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू, वॉरेन बफेट, एप्पल, उबर समेत अन्य के ट्विटर अकाउंट को हैक किया गया है।

ट्विटर हैंडल हैक करने के बाद इसपर एक खास तरह के मेसेज पोस्ट किए गए। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा का भी ट्विटर हैंडल हैक कर लिया गया। संदेशों से स्पष्ट है कि क्रिप्टोकरंसी स्कैम के उद्देश्य से ऐसा किया गया। ये मेसेज थोड़ी देर बाद डिलीट भी कर दिए गए।

हैक करने वाले ने मेसेज में एक लिंक डाला जिसपर बिट कॉइन का लेनदेने किया जा सकता है। पोस्ट किया गया, ‘आप हमको 5000 बिट कॉइन देने वाले हैं।’ जानकारी के बाद वेबसाइट के डोमेन को कैंसल कर दिया गया। ऐमजॉन के को-फाउंडर जेफबेजोस और बिल गेट्स के ट्विटर हैंडल हैक करके भी इसी तरह के पोस्ट किए गए।

एपल के आकाउंट से लिखा गया है कि हम अपने लोगों को कुछ देना चाहते हैं। उम्मीद है कि आप भी सपॉर्ट करेंगे। आप जितने भी बिटकॉइन भेजेंगे, उन्हें डबल करके लौटाया जाएगा। यह केवल 30 मिनट के लिए है। एलन मस्क की प्रोफाइल से लिखा गया है कि कोविड 19 की वजह से मैं लोगों को बिट कॉइन डबल करके दे रहा हूं। यह सब सुरक्षित है।

थोड़ी देर ही में इस तरह के ट्वीट कई कंपनियों के हैंडल से भी होने लगे। एपल, ऊबर और कई और कंपनियों के अकाउंट से भी बिटकॉइन स्कैम की कोशिश की गई। इस घटना के बाद ट्विटर पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। आखिर किस कमी की वजह से इतने बड़े नामों के भी ट्विटर हैंडल हैक हो गए? इसका मतलब ट्विटर में कोई ऐसा लूपहोल है जिसके चलते किसी की भी प्राइवेसी सुरक्षित नहीं है।

जानें- ट्विटर ने क्या कहा

वहीं, इस घटना के बाद ट्विटर ने कहा कि हमको ट्विटर अकाउंट हाईजैक होने की जानकारी है। फिलहाल हम मामले की जांच कर रहे हैं। साथ ही इसको दुरुस्त करने के लिए कदम उठा रहे हैं। हम जल्द ही सबको अपडेट देंगे। ट्विटर ने कहा कि हम इस मामले की समीक्षा कर रहे हैं, जिसके चलते यूजर अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट नहीं कर पा रहे होंगे और न ही पासवर्ड रिसेट कर पा रहे होंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.