Cover

सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा शिव तांडव स्त्रोतम का Video, जानिए इसका MP कनेक्शन

भोपाल: सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे शिव तांडव स्त्रोतम का मध्य प्रदेश से खासा नाता है. सावन महीने में शिवभक्ति में डूबे देश-दुनिया में लाखों लोग इसे देख और पसंद और शेयर कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि यह वीडियो भोपाल के नज़दीक और रायसेन ज़िले में स्थित विश्व प्रसिद्ध पुरातात्विक धरोहर भोजपुर के शिव मंदिर का है और इसमें शिव तांडव स्त्रोतम का पाठ करने वाले बाबा कालीपुत्र कालीचरण हैं। खास बात यह है कि ये कोई प्रायोजित या पहले से तय वीडियो शूट नहीं है बल्कि विशाल शिव लिंग और पुरातात्त्विक धरोहर को देखकर बाबा के अंतर्मन से निकला भाव है। इस वीडियो को  बजरंग सेना मध्यप्रदेश के अध्यक्ष अमरीश राय ने अपने फोन से शूट करके सोशल मीडिया पर पोस्ट किया  था। लेकिन आज यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो के ऑर्थर आनंद रंगनाथन और अभिनेता अनुपम खेर सहित लाखों लोग कायल हुए हैं।

जानकारी के अनुसार वीडियो को जारी करने वाले कालीपुत्र कालीचरण बाबा महाराष्ट्र के अकोला के रहने वाले हैं। उनका इंदौर के बाणगंगा इलाके में भी आश्रम है। वो बजरंग सेना के राष्ट्रीय अनुशासन प्रभारी भी हैं। कालीचरण बाबा हाल ही में भोजपुर शिव मंदिर दर्शन करने गए थे। शिवभक्ती में डूबे बाबा ने जब  शिव तांडव स्त्रोतम का पाठ किया तो उनके साथ मौजूद बजरंग सेना मध्यप्रदेश के अध्यक्ष अमरीश राय समेत दूसरे कई लोगों ने वीडियो बना लिया।

इस वीडियो को कालीचरण बाबा के फेसबुक पेज पर भोपाल यात्रा और मंदिर दर्शन के उल्लेख के साथ शेयर किया गया है। उनका कहना है भोजपुर में भगवान शिव की दिव्यता का अनुभव अद्भुत है। इस वीडियो को लाखों लोगों ने सराहा है। वीडियो को लेकर उनका कहना है कि वे भगवान शिव की दिव्य झांकी पाकर खुद अपनी देह भाव को भूल गए और अपने आप ही उनके मुख से शिव तांडव स्त्रोत निकलने लगा। लेकिन यह सोशल मीडिया पर इतनी सुर्खियां बटोरेगा इसकी कल्पना नहीं की थी।

आपको बता दें कि इस वीडियो को फिल्म अभिनेता अनुपम खेर समेत कई हस्तियों ने शेयर किया है। अनुपंम खेर ने वीडियो को अपने इंस्ट्राग्राम पर शेयर करते हुए लिखा है- इस भक्त के शक्तिशाली और भावपूर्ण गायन को सुनकर मेरे रोंगटे खड़े हो गए। ऐसा लगा मानो तानसेन स्वर साधना कर रहे हों।समर्पण ऐसा जैसे स्वयं रावण भगवान शिव की आराधना कर रहा हो। शिव तांडव का एक-एक अक्षर खनक रहा है। मंत्र का एक एक श्लोक सिद्ध हो रहा है। कान मंत्र मुग्ध, आंखें अपलक और कदम थिरकने को मजबूर। रोम रोम शिवमय हो गया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.