Cover

कंगना रनोट ने मुंबई पुलिस की जांच पर उठाए सवाल, पूछा, ‘महेश भट्ट-करण जोहर से पूछताछ कब’

नई दिल्लीl दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के सिलसिले में कंगना रनोट ने एक गंभीर सवाल उठाया हैं। थलाइवी अभिनेत्री ने उन चार लोगों के नाम बताए है, जिन्हें अभी तक मुंबई पुलिस ने पूछताछ के लिए नहीं बुलाया है। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने देश को सदमा दिया थाl तबसे उनके प्रशंसक और दोस्त और अन्य लोग निराश हैं। सुशांत के असामयिक निधन के बाद से कई प्रशंसकों की तरह कंगना रनौत, जो निडर हैं और किसी भी विषय में अपनी राय देने से पीछे नहीं हटतीं, दिवंनगत अभिनेता के लिए न्याय चाहती हैं।

अब सुशांत सिंह राजपूत की मौत के सिलसिले में कंगना रनोट ने एक गंभीर सवाल उठाया हैं। रिपब्लिक टीवी के साथ एक साक्षात्कार में कंगना रनोट ने फिल्म इंडस्ट्री के उन चार लोगों के नामों का खुलासा किया जिन्हें सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के संबंध में पूछताछ के लिए अभी तक नहीं बुलाया गया है। मणिकर्णिका अभिनेत्री के अनुसार निर्माता आदित्य चोपड़ा, फिल्म निर्माता महेश भट्ट, फिल्म निर्माता-निर्माता करण जोहर और फिल्म समीक्षक राजीव मसंद को पूछताछ के लिए बुलाया जाना चाहिए।

कंगना ने कहा, ‘मैं यह नहीं कह रही कि थी कोई भी चाहता था कि सुशांत मर जाए लेकिन कई चाहते थे कि वे निश्चित रूप से बर्बाद हो जाए। ये लोग भावनात्मक गिद्ध होते हैं। वे लोगों को मरता देखना चाहते हैं। आज तक महेश भट्ट अपनी फिल्मों के माध्यम से परवीन बाबी की बीमारी के कई संस्करणों को बेच रहे हैं। मुंबई पुलिस आदित्य चोपड़ा, महेश भट्ट, करण जोहर और राजीव मसंद को पूछताछ करने के क्यों नहीं बुला रही है? क्योंकि वे शक्तिशाली हैं? इस साक्षात्कार के साथ मेरे पास सिवाय खोने के कुछ भी नहीं हैं।’ जैसा कि कंगना ने बिना किसी हिचकिचाहट के नेपोटिज्म पर भी बात की।

उन्होंने कहा, ‘कल, तापसी पन्नू, स्वरा भास्कर जैसे जरूरतमंद बाहरी लोग उठेंगे और कहेंगे कि उन्हें इस इंडस्ट्री से प्यार है। मैं केवल यह कह रही हूं कि यदि आप इस उद्योग से प्यार करते हैं और यदि आप करण जोहर से प्यार करते हैं, तो आपको आलिया या अनन्या जैसा काम क्यों नहीं मिल रहा है? उनका संपूर्ण अस्तित्व भाई-भतीजावाद का प्रमाण है। ऐसे लेख होंगे जो मुझे इसके बाद एक पागल व्यक्ति की तरह साबित करने लगेंगे, मुझे पता है।’ जबकि कंगना ने मुंबई पुलिस की जांच को ‘दिखावा’ बताया है। सुशांत सिंह राजपूत का 14 जून को निधन हो गया था और वह अपने मुंबई आवास में मृत पाए गए थे।

अभिनेता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि उसकी मृत्यु एस्फिक्सिया के कारण हुई, जो फांसी के कारण होती है। सुशांत की आत्महत्या के मामले में मुंबई पुलिस ने अब तक 30 से अधिक लोगों के बयान दर्ज किए हैं और आगे की जांच कर रही है। हाल ही में यह बताया गया कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने खुलासा किया कि सुशांत की मौत के मामले में सीबीआई जांच की आवश्यकता नहीं है और उल्लेख किया कि पुलिस ऐसे मामलों को संभालने के लिए पर्याप्त सक्षम है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890