Cover

हैदराबाद में बिना किसी योग्यता के चला रहे थे अस्पताल, गिरफ्तार किए गए 2 नकली डॉक्टर

हैदराबाद। हैदराबाद में दो लोगों को फेक अस्पताल चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। मिली जानकारी के मुताबिक, मोहम्मद शोएब सुभानी और मोहम्मद अब्दुल मुजीब के रूप में पहचाने गए दोनों आरोपित बिना किसी योग्यता के ‘समीर अस्पताल’ चला रहे थे। पुलिस ने बताया कि मोहम्मद अब्दुल मुजीब के नाम पर अस्पताल को जारी किया गया पंजीकरण प्रमाण पत्र और आधार कार्ड की एक प्रति जब्त की गई है।

नकली डॉक्टर बन मासूमों को ठगने का कर रहे थे काम

पुलिस ने बताया कि ये दोनों आरोपित नकली डॉक्टर बन कर मासूम लोगों को धोखा दे रहे थे। उन्होंने बताया कि शनिवार को दोनों आरोपितों को कमिश्नर टास्क फोर्स, वेस्ट ज़ोन टीम के साथ लाया गया है। उन्होंने बताया कि साल 2017 में मेहदीपट्टनम, हैदराबाद में यह अस्पताल शुरु किया गया था। अस्पताल का नाम  आरोपित ने नाम समीर अस्पताल रखा। इसके अध्यक्ष सुभानी ने बाहरवीं पास की हुई है। इसके बाद उसने अपनी बीकॉम की डिग्री साल 2006 में बीच में ही छोड़ दी थी।

18 जुलाई को अस्पताल में पुलिस ने मारा था छापा

वहीं दूसरा आरोपी और शुभानी का दोस्त मुजीब ने इससे पहले एमएम अस्पताल में हुमायुं नगर में काम किया हुआ है। दोनों ने ही मिलकर मुनाफा कमाने के लिए नकली अस्पताल चलाने की योजना बनाई थी। पुलिस टीम ने 18 जुलाई को अस्पताल में छापा मारा और जब्त सामग्रियों को स्टेशन हाउस कार्यालय, आसिफ नगर पुलिस स्टेशन को सौंप दिया है। इसके अलावा माममे की छानबीन जारी है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.