Cover

तटबंधों पर भारी दबाव के बीच टूट रहे बांध, सड़क संपर्क भंग, रेल ट्रैक पर भी पानी

पटना। बिहार में बारिश के बीच नदियां उफान पर हैं बाढ़ का कहर बढ़ता जा रहा है। सैकड़ों गांव बाढ़ की चपेट में हैं। खेतों में लगी फसलें डूब गई हैं। हजारों लोग विस्‍थापित हो चुके हैं। लोगों का निचले इलाकों से सुरक्षित जगहों पर जाना लगातार जारी है। पशुओं के चारे का भी संकट खड़ा हो गया है। तटबंधों पर पानी के भारी दबाव के बीच बांध टूट रहे हैं। गोपालगंज में रिंग बांध टूटने के बाद मुख्‍य तटबंध दो जगह टूट गया है। पूर्वी चंपारण में चंपारण तटबंध भी टूटा है। गोपालगंज को बेतिया से जोड़ने वाले गंडक नदी के जादोपुर-मंगलपुर महासेतु का संपर्क पथ ध्वस्त हो गया है। सीतामढ़ी व पूर्वी चंपारण सड़क संपर्क भंग हो गया है तो जमुई में रेल ट्रैक पर पानी चढ़ गया है। इस बीच बीते 24 घंटे के दौरान बाढ़ के पानी में डूबने से 17 लोगों की मौत हो गई है।

गोपालगंज में रिंग बांध टूटा, मुख्‍य तटबंध पर खतरा मंडराया

गुरुवार की रात गोपालगंज जिले के बरौली में देवापुर तथा सिधवलिया के सिकटिया में गंडक नदी के पानी के दबाव से रिंग बांध टूट गया। रिंग बांध टूटने से गंडक नदी का दबाव सारण मुख्‍य तटबंध पर पड़ा। इससे गोपालगंज के बरौली स्थित देवापुर में सेलुइस गेट के पास पानी के दबाव के कारण सारण तटबंध टूट गया है। इससे गंडक नदी का पानी राष्‍ट्रीय उच्‍च पथ 28 की तरफ तेजी से फैल रहा है। देवापुर गांव में गंडक का पानी घुसने से हहाकार मच गया है। मांझागढ़ प्रखंड के पुरैना में भी सारण तटबंध टूट गया है।

गंडक नदी के जादोपुर-मंगलपुर महासेतु का संपर्क पथ ध्वस्त

गोपालगंज से बेतिया को जोडऩे के लिए गंडक नदी पर बनाए गए जादोपुर-मंगलपुर महासेतु का संपर्क पथ गुरुवार को ध्वस्त हो गया। जिले के सदर प्रखंड के राजवाही बीन टोली गांव के समीप सुबह गंडक के दबाव से सड़क टूटने के कारण महासेतु पर आवागमन ठप हो गया है। जादोपुर- मंगलपुर महासेतु का उद्घाटन 2015 में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तथा तत्कालीन उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने किया था। सारण जिले में गंडक का जलस्तर बढऩे से पानापुर, तरैया व परसा प्रखंड के दो दर्जन गांव बाढ़ के पानी से घिर चुके हैं।

चंपारण तटबंध भी टूटा, मची अफरा-तफरी

उधर, पूर्वी चंपारण में संग्रामपुर प्रखंड के दक्षिणी भवानीपुर पंचायत स्थित निहालु टोला में चंपारण तटबंध भी करीब 10 फीट टूट गया है। बाढ़ का पानी उच्‍च पथ 74 पर चढ़ने लगा है। तटबंध के टूटने से हो रहे कटाव के कारण कोटवा, केसरिया, कल्याणपुर प्रखंड के कुछ इलाके इसकी चपेट में आ सकते हैं।

नए इलाकों में फैला पानी सीतामढ़ी-पूर्वी चंपारण सड़क संपर्क भंग

पश्चिम चंपारण में बेतिया-गोपालगंज मार्ग पर पुल का एप्रोच रोड धंसने से आवागमन ठप है। पूर्वी चंपारण के सुगौली प्रखंड के कैथवलिया में सिकरहना नदी का रिंग बांध टूट गया है। इससे नए क्षेत्रों में पानी फैल रहा है। मधुबनी में मधवापुर-पुपरी सड़क पर पानी चढ़ा है। समस्तीपुर के निचले क्षेत्र में परेशानी है। सीतामढ़ी में बागमती, अधवारा और लालबकेया, झीम, रातो और मरहा उफान पर है। गणेशपुर लचका के पास एनएच पर पानी चढऩे से पूर्वी चंपारण का संपर्क भंग हो गया है। शिवहर के बेलवा घाट के पास के गांवों के लोग ऊंचे स्थानों पर हैं। मुजफ्फरपुर जिले के औराई व कटरा में स्थिति यथावत है।

जमुई में रेल ट्रैक पर पानी, कोसी व सीमांचल में नदियां उफान पर

वहीं पूर्व बिहार, कोसी और सीमांचल में भी बारिश के बाद नदियां उफान पर हैं। जमुई में रेल ट्रैक पर आंजन नदी का पानी बह रहा है। कटिहार में गंगा-महानंदा और खगडिय़ा में कोसी-बागमती खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। सुपौल की सूचना के अनुसार कोसी नदी नेपाल प्रभाग के दो स्परों पर लगातार दबाव बनाए हुए है। मधेपुरा में कोसी व सुरसर के जलस्तर में बढ़ोतरी से कई गांवों में पानी पहुंच चुका है। किशनगंज में महानंदा, मेंची, कनकई, डोक व अन्य नदियों के जलस्तर में कमी आने से नदी के निचले इलाके में बसे लोगों को राहत मिली है। जलस्तर घटने से नदी कटाव तेज हो गया है। पूर्णिया में महानंदा का जलस्तर खतरे के निशान से करीब एक मीटर ऊपर है। इसमें गिरावट दर्ज की जा रही है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890