Cover

बाढ़ के कारण बिगड़े हालात, असम और बिहार समेत विभिन्न राज्यों में स्थिति भयावह

नई दिल्ली। बाढ़ के कारण देश के विभिन्न राज्यों में संकट की स्थिति है, लेकिन सबसे बुरे हालात इस वक्त असम में हैं। यहां अब तक 90 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों जिंदगीयां प्रभावित हुई हैं। वहीं दूसरी तरफ अब बिहार और उत्तर प्रदेश में भी बाढ़ के कारण स्थिति बिगड़ने लगी है। इनके अलावा तेलंगाना में भी भारी बारिश के कारण सड़कों पर पानी भर गया है, जिस वजह से लोगों का अपने घरों से निकलना मुश्किल हो गया है।

असम में सबसे ज्यादा बुरी स्थिति

बाढ़ के कारण इस वक्त सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला राज्य असम है। इसके नगांव जिले के राहा क्षेत्र में बाढ़ का कहर जारी है, बाढ़ के पानी में कई स्कूल, जलापूर्ति परियोजना और अन्य सरकारी इमारतें जलमग्न हो गई हैं। इस क्षेत्र की नदियों- बोरपानी, कपिली, कलंग का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है, जबकि यहां के सैकड़ों गांव बाढ़ की चपेट में आ चुके हैं, जिनमें मगगांव, आमतला, कमरगांव आदि शामिल हैं। पीने के पानी की कमी के कारण लोग हैंडपंपों के माध्यम से पानी लाने को मजबूर हैं। न्यूज एजेंसी एएनआइ से बात करते हुए, एक स्थानीय संजीव हजारिका ने बताया, “बाढ़ के कारण राज्य के लगभग 50,000 लोग प्रभावित हुए हैं। उनके खेत जलमग्न हो गए हैं। कई लोग वर्तमान में शेल्टर होम में रह रहे हैं और सरकार स्थानीय लोगों को राहत सामग्री प्रदान कर रही है।” राज्य में बाढ़ के कारण तीन और लोगों की मृत्यु के साथ, कुल मौतों की संख्या 96 हो गई है। असम आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने यह जानकारी दी है।

बिहार में 10 लाख जिंदगीयां हुई प्रभावित

बिहार में भी भारी बारिश के कारण स्थिति काफी खराब हो गई है। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने शनिवार को जानकारी दी है कि बिहार में बाढ़ के कारण दस लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं और 15,000 से अधिक लोग शेल्टर होम में रह रहे हैं। वहीं अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है। विभाग के मुताबिक, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की 22 टीमों को राज्य में तैनात किया गया है। सरकार ने बताया, “बिहार में बाढ़ के कारण 10,61,152 लोग प्रभावित हुए हैं और 15,956 लोग शेल्टर होम में रह रहे हैं। राज्य में एनडीआरएफ/एसडीआरएफ की 22 टीमें तैनात की गई हैं।”

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890