Cover

मिजोरम के राज्यपाल ने लॉकडाउन में मिले वक्‍त का इस तरह किया इस्‍तेमाल, लिख डालीं 13 किताबें

आइजोल। मिजोरम के राज्यपाल पीएस श्रीधरन पिल्लई (PS Sreedharan Pillai) ने बीते दिनों कोरोना संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान राजभवन में खाली समय का सदुपयोग किताबें और कविताएं लिखकर किया। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक, मार्च से लेकर अब तक उन्‍होंने कम से कम 13 किताबें लिख डालीं। इन किताबों में अंग्रेजी तथा मलयालम भाषाओं में लिखीं कविताओं के संग्रह शामिल हैं।

पिल्लई ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान राजभवन में किसी को आने की अनुमति नहीं थी। लोगों के साथ मेरा संवाद भी बंद था। मैंने यात्राओं को स्थगित कर दिया था। इससे पढ़ने और लिखने के लिए ज्‍यादा खाली वक्त मिला। लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी के बाद मैंने अधिकांश वक्‍त पढ़ने और लिखने में बिताया। वह कहते हैं कि मैं सुबह चार बजे जग जाता था। कुछ देर तक व्यायाम करने के बाद पढ़ना लिखना शुरू कर देता था।

पीएस श्रीधरन पिल्लई (PS Sreedharan Pillai) कहते हैं कि नेताओं और जन प्रतिनिधियों को किताबें पढ़ने की आदत डालनी चाहिए। यह पूछने पर कि किताबें लिखने की प्रेरणा उन्‍हें कहां से मिली… उन्‍होंने कहा कि मैं बचपन से आम जनजीवन और ग्रामीण राजनीति में सक्रिय रहा। वकालत करते हुए गांव के लोगों के साथ रूबरू होने और बाद में नेता बनने के साथ ही लिखने की ललक बढ़ती गई।

पिल्लई ने कहा कि कोरोना ने दुनिया पर बहुत गहरा असर डाला है लेकिन इसका सकारात्मक पक्ष भी सामने आया है। इस संकट ने बताया है कि हम एक-दूसरे पर कितने निर्भर हैं। इसने इंसानों के बीच प्रेम बढ़ाया है। पिल्लई ने तीन दशक पहले लिखना शुरू किया था। उनकी पहली किताब साल 1983 में पब्‍लि‍श हुई थी। बताया जाता है कि राज्यपाल बनने से पहले तक उनकी 105 किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890