Cover

कोझीकोड आ रहे प्लेन में सवार बिजनेसमैन का पूरा परिवार है सुरक्षित

कोझीकोड। हादसे का शिकार हुए एयर इंडिया एक्सप्रेस फ्लाइट में वतन वापस आ रहे एक परिवार के पांच सदस्य घायल तो हुए लेकिन जिंदगी बच गई। सौभाग्य की बात है कि ये पांचों एक ही परिवार के सदस्य हैं। इन्हें बेबी मेमोरियल अस्पताल, कोझीकोड में भर्ती किया गया है केवल सना दूसरे अस्पताल अल शिफा में भर्ती हैं जो मलप्पुरम में है। दरअसल, वे कोझीकोड स्थित कोडुकल्ली में अपने घर लौट रहे थे।

दुबई में 40 वर्षीय बिजनेसमैन सैफुद्दीन (Saifudheen) ने स्कूल में छुट्टियों को देखते हुए बच्चों मोहम्मद शाहिल ( Muhammad Shahil), फातिमा सना ( Fathima Sana) और आयशा शांजा (Aysha Shanza) व पत्नी फसलुन्निसा (Fasalunnisa) के साथ कोझीकोड में अपने घर वापस आने का फैसला किया। सैफुद्दीन के भतीजे मुहम्मद सालिह ने एएनआइ को बताया, ‘ सैफुद्दीन मेरे अंकल हैं। वे और उनका परिवार दुबई से वापस आ रहे थे तभी यह हादसा हुआ। हमें इस बारे में रात 8 बजे जानकारी मिली। अब उन्हें बेबी मेमोरियल अस्पताल में भर्ती किया गया है, वे सब अब बेहतर हैं।’

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri) ने शनिवार को बताया, ‘ कोझीकोड इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर फ्लाइट की क्रैश लैंडिंग में दो पायलट समेत 18 लोगों की मौत हो गई।’ उन्होंने कहा कि हालात का जायजा लेने के लिए वे कोझीकोड एयरपोर्ट जाएंगे। दिल्ली से दो और मुंबई से एक स्पेशल राहत फ्लाइटों का इंतजाम किया गया है। इसके जरिए वहां परिजनों व सभी यात्रियों को सहायता मुहैया कराई जाएगी।

शुक्रवार शाम 7.41 बजे वंदे भारत अभियान के तहत खाड़ी में फंसे भारतीय नागरिकों की वतन वापसी के क्रम में एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान केरल के कोझिकोड एयरपोर्ट पर हादसे का शिकार हो गया। दरअसल, भारी बारिश के कारण रनवे पर पानी भरा था और लैंडिंग के वक्त विमान फिसलकर लगभग 50 फीट गहरी खाई में जा गिरा। इस हादसे में प्लेन में सवार दो पायलटों समेत 18 लोगों की मौत हो गई वहीं 100 से अधिक घायल हैं कईयों की हालत गंभीर है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.