Cover

ब्रिटेन में महात्मा गांधी के चश्मे की लगेगी ऑनलाइन बोली

लंदनः ब्रिटेन में होने वाली एक ऑनलाइन नीलामी में सोने की परत चढ़ा एक जोड़ी चश्मा ऐसा भी पेश किया गया है, जिसके बारे में माना जाता है कि उन चश्मों को महात्मा गांधी ने पहना था और उन्होंने 1900 के दशक में तोहफे के तौर पर दिया था। इसकी अनुमानित कीमत 10,000 से 15,000 पाउंड के बीच रहने की उम्मीद है।

दक्षिण-पश्चिमी इंग्लैंड के उपनगर हनहम स्थित कंपनी ”ईस्ट ब्रिस्टल ऑक्शंस” ने रविवार को कहा कि वह इस बात को जानकर बेहद आश्चर्यचकित थे कि जो चश्मे उनकी डाकपेटी में एक लिफाफे में रखकर डाले गए थे, उनके पीछे एक ऐसा शानदार इतिहास हो सकता है। नीलामी कंपनी के एंडी स्टोव ने कहा, ” इसका बड़ा ऐतिहासिक महत्व है। विक्रेता ने इसे दिलचस्प तो माना लेकिन इसकी कोई कीमत नहीं बताई। यहां तक कि विक्रेता ने मुझसे कहा कि अगर यह कीमती नहीं हैं तो इन्हें नष्ट कर दें।”

उन्होंने कहा, ” जब हमने उन्हें इसकी कीमत बताई तो वह अचंभे में पड़ गए। यह नीलामी से संबंधित वाकई एक शानदार कहानी है।” इन चश्मों के लिए पहले ही 6,000 पाउंड की ऑनलाइन बोली लगाई जा चुकी है। इंग्लैंड के इस अज्ञात बुजुर्ग विक्रेता के परिवार के पास ये चश्मे थे।

विक्रेता के पिता ने उन्हें बताया था कि ये चश्मे उनके चाचा को महात्मा गांधी ने उस वक्त तोहफे के तौर पर दिए थे, जब वह 1910 से 1930 के बीच दक्षिण अफ्रीका में ब्रिटिश पेट्रोलियम में काम करते थे। ”महात्मा गांधी के निजी चश्मे का जोड़ा” के शीर्षक से 21 अगस्त को आयोजित होने वाली इस ऑनलाइन नीलामी ने पहले ही लोगों को खासा आकर्षित किया है। भारत के लोगों ने भी इसमें विशेष रुचि दिखायी है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890