Cover

कांग्रेस सांसद के आरोपों पर पुरी का करारा पलटवार, बोले- बिना जानकारी के ना करें बात

नई दिल्ली। केरल के कोझिकोड में एयर इंडिया एक्सप्रेस के विमान हादसे को लेकर नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी और कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू सोशल मीडिया पर भिड़ गए। केंद्रीय मंत्री ने हादसे को लेकर कांग्रेस सांसद के ट्वीट पर सवाल उठाते हुए कहा कि कारीपुर एयरपोर्ट का रनवे पूरी तरह से सुरक्षित था और अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आइसीएओ) के मानकों के मुताबिक वहां सुरक्षा संबंधी सभी उपाय किए गए थे।

बिना तथ्यों के उठा रहे हैं सवाल

पुरी ने ट्वीट किया, ‘कांग्रेस पार्टी के कुछ सदस्य बिना तथ्यों को जाने ही ट्वीट कर रहे हैं।’ उन्होंने अगले ट्वीट में कहा, ‘सांसद रवनीत बिट्टू को नैरो बॉडी एयरक्राफ्ट और वाइड बॉडी एयरक्राफ्ट के बीच अंतर पता नहीं है, इसके बावजूद उन्होंने इस मुद्दे पर किसी विशेषज्ञ की तरह ट्वीट किया! उन्होंने अपना ट्वीट हटाकर अच्छा किया।’

नैरो बॉडी एयरक्राफ्ट था यह विमान

नैरो बॉडी एयरक्राफ्ट में यात्रियों के बैठने वाले केबिन की चौड़ाई कम होती है और उसमें एक पंक्ति में तीन से छह सीट होती हैं और उनके बीच एक ही गलियारा होता है। जबकि वाइड बॉडी एयरक्राफ्ट में एक पंक्ति में 10 सीट तक होती हैं और उनके बीच दो गलियारे होते हैं। केरल में हादसे का शिकार हुआ एयर इंडिया एक्सप्रेस बोइंग 737 नैरो बॉडी एयरक्राफ्ट था

बिट्टू ने लगाए थे ये आरोप

लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने आठ अगस्त को ट्वीट कर आरोप लगाया, ‘कई बार की चेतावनी और 2015 में कोझिकोड एयरपोर्ट पर वाइड बॉडी एयरक्राफ्ट की लैंडिंग पर रोक के बावजूद, हरदीप सिंह पुरी ने जुलाई 2019 में रोक हटा दी, जिसके परिणाम स्वरूप इस तरह का भीषण हादसा हुआ और लोगों की जान गई।

थरूर ने बदला टोन

पुरी ने एक और ट्वीट में कहा, ‘मुझे खुशी हुई कि मेरे मित्र शशि थरूर ने तथ्यों को जानने के बाद अपना टोन बदल दिया। लेकिन सांसद मानिक टैगोर तो बिना किसी जानकारी के यह कहते रहे कि मुझे वहां जाना चाहिए, जबकि मैं पहले ही वहां के लिए निकल गया था।’

सहानुभूति के संदेश ताकत देते हैं : जयशंकर

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि वह विमान हादसे पर शोक संवेदना और सहानुभूति व्यक्त करने वाले दुनिया के नेताओं के प्रति गहराई से आभार व्यक्त करते हैं। मुश्किल की घड़ी में इस तरह के संदेश हौसला देते हैं। विमान हादसे के बाद अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, जापान, श्रीलंका, पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, मलेशिया और मालदीव के नेताओं ने गहरा शोक व्यक्त किया था और पीडि़तों और उनके परिजनों के प्रति संवेदना जताई थी।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890