Cover

बागपत में भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष की हत्या के मामले में इंस्पेक्टर निलंबित, सीएम योगी आदित्यनाथ दुखी

लखनऊ। बागपत में मॉर्निंग वॉक पर निकलेभारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष संजय खोखर की आज हत्या के मामले को सीएम योगी आदित्यनाथ बेहद सख्त है।  उन्होंने 24 घंटे में अपराधियों को पकडऩे के निर्देश भी दिए हैं। इसी बीच बागपत में इसी मामले में इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया गया है।

बागपत में मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व जिलाध्यक्ष संजय खोखर की हत्या कर दी गई। वह मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। इस मामले के दृष्टिगत एवं अपराधों को रोक पाने में असफल रहने के कारण एसपी बागपत अजय कुमार सिंह ने प्रभारी निरीक्षक छपरौली को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का निर्देश जारी कर दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बागपत के पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष संजय खोखर की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने स्व. खोखर के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने इस प्रकरण में जांच कर दोषियों के विरुद्ध 24 घंटे में विधिक कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि इस प्रकरण में जवाबदेही भी तय की जाए।

बागपत के कस्बा छपरौली निवासी भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष संजय खोखर 53 पुत्र ओमप्रकाश प्रतिदिन मॉर्निंग वॉक के लिए पड़ोस के गांव हिलवाड़ा तक जाते थे। तिलवाड़ा से लौटे समय गांव के जंगल में रास्ते में पडऩे वाले अपने खेतों में भी संजय खोखर जाते थे। मंगलवार की सुबह छह बजे घर से भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष संजय खोखर माॄनग वॉक के लिए गए थे। लौटे समय उनके खेतों के पास कुछ बदमाशों ने उन्हेंं घेर लिया और तमंचे से तीन गोली मारकर संजय खोखर की हत्या कर दी। उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.