Cover

पीएम नरेंद्र मोदी ईमानदार करदाताओं को सम्मानित करने के लिए कल लांच करेंगे एक प्लेटफॉर्म, बजट में हुआ था एलान

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के ईमानदार करदाताओं के लिए एक प्लेटफॉर्म की शुरुआत गुरुवार को करेंगे। स्वतंत्रता दिवस से पहले वह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘ट्रांसपैरेंट टैक्सेशन-ऑनरिंग द ऑनेस्ट’ नामक प्लेटफॉर्म की शुरुआत करेंगे। एक फरवरी को पेश वित्त वर्ष 2020-21 के केंद्रीय बजट में ‘टैक्सपेयर चार्टर’ की घोषणा हुई थी। सरकार की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस प्लेटफॉर्म की शुरुआत प्रत्यक्ष कर सुधार की दिशा में उठाया गया एक और कदम है। इस कार्यक्रम में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर भी हिस्सा लेंगे। इनके अलावा विभिन्न उद्योग मंडलों के प्रतिनिधि, ट्रेड एसोसिएशन, चार्टर्ड अकाउंट एसोसिएशन और प्रमुख करदाता भी हिस्सा लेंगे।

उल्लेखनीय है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पूर्व में यह बात कह चुकी हैं कि करदाता राष्ट्र के निर्माता हैं और सरकार उनके लिए अधिकारों का एक चार्टर लेकर आएगी। वित्त मंत्री के मुताबिक प्रधानमंत्री टैक्सपेयर्स को ‘राष्ट्र-निर्माता’ करार देते हैं।

 

आइए जानते हैं कि सरकार ने अब तक कर सुधारों को लेकर कौन-कौन से कदम उठाए हैंः

  • पिछले साल कॉरपोरेट टैक्स की दरों को 30 फीसद से घटाकर 22 फीसद कर दिया गया था। इसके अलावा नई विनिर्माण इकाइयों के लिए दर को घटाकर महज 15 फीसद कर दिया गया था। साथ ही डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स को खत्म कर दिया गया था।
  • सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि कर सुधार करते समय टैक्स की दरों में कमी और प्रत्यक्ष कर से जुड़े नियमों को सरल बनाने पर मुख्य रूप से ध्यान रहा है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने आयकर विभाग के कामकाज को बेहतर बनाने एवं पारदर्शिता लाने के लिए हाल में कई तरह के कदम उठाए हैं।
  • इसी कड़ी में ऑफिशियल कम्युनिकेशन को लेकर अधिक पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए विभाग की ओर से डॉक्यूमेंट आइडेंटिफिकेशन नंबर (DIN) की शुरुआत की गई है। इसके तहत विभाग की ओर से जारी किए जाने वाले हर कम्युनिकेशन पर एक कंप्यूटर जेनरेटेड यूनिक आइडेंटिफिकेशन नंबर होता है।
  • इसी तरह करदाताओं की सुविधा को देखते हुए आयकर विभाग ने आयकर रिटर्न की प्रिफिलिंग की शुरुआत की है। इससे टैक्सपेयर्स को इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने में आसानी होती है। स्टार्टअप कंपनियों के लिए अनुपालन के नियमों को सरल बनाया गया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890