Cover

घटेगा रेल सफर का समय, दिल्ली से चंडीगढ़ तीन व अमृतसर साढ़े पांच घंटे में पहुंचाएगी प्राइवेट ट्रेन

अंबाला। अब रेल यात्रा से आप कम समय में अपने गंतव्‍य तक पहुंच सकेंगे। यह संभव हाेगा प्राइवेट ट्रेंनों से। इन ट्रेनों में यात्रा आरामदेह होने के साथ-साथ सफर कम समय में पूरा होगा। इसके साथ ही मोदी सरकार का देश में हाई स्पीड ट्रेनें पटरी पर उतारने का सपना साकार होता नजर आ रहा है। देश के 109 जिन रूटों पर प्राइवेट पब्लिक पार्टरनशिप (पीपीपी मोड) पर ट्रेनें दौड़ाने का निर्णय लिया है, उनमें हरियाणा और पंजाब के खाते में भी 14 ट्रेनें आएंगी। खास बात यह है कि नई दिल्ली से चंडीगढ़ का सफर घटकर महज 3 घंटे रह जाएगा, जबकि नई दिल्ली से अमृतसर तक का सफर साढ़े पांच घंटे का होगा।

हरियाणा-पंजाब के खाते में आई 14 ट्रेनें, उत्तर भारत को महाराष्ट्र के नागपुर तक जोड़ेंगी

मौजूदा समय में नई दिल्ली से चंडीगढ़ का सफर 4 घंटे 10 मिनट का है, जबकि नई दिल्ली से अमृतसर तक का सफर 6:20 मिनट का है। इन 14 ट्रेनों में 12 ट्रेनें प्रतिदिन दौड़ेंगी, जबकि अन्य दो ट्रेनें सप्ताह में तीन-तीन दिन अप-डाउन करेंगी। इन ट्रेनों की स्पीड 160 किलोमीटर प्रतिघंटा होगी। हरियाणा व पंजाब से चलने वाली ट्रेनें उत्तर भारत ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र के नागपुर तक का सफर तय करेंगी।

दिल्ली से अमृतसर दो तो चंडीगढ़ के लिए चार ट्रेनें दौड़ेंगी

रेलवे ने 30 हजार करोड़ रुपये का टेंडर अलाट किया है, जिसमें प्राइवेट कंपनियों की भागीदारी रहेगी।  हरियाणा व पंजाब के खाते में 14 ट्रेनें आएंगी। नई दिल्ली से अमृतसर के बीच दो ट्रेनें चलेंगी। 432 किलोमीटर का यह सफर ट्रेनें 5 घंटे 35 मिनट में तय कर लेंगी। इसी प्रकार नई दिल्ली से चंडीगढ़ के बीच अप डाउन में चार ट्रेनें चलाने का फैसला लिया गया है। 266 किलोमीटर के इस रूट पर ट्रेन महज तीन घंटे में सफर तय कर लेगी।

मां वैष्णो देवी के दर्शन कराएंगी दो ट्रेनें

पीपीपी मोड पर पटरी पर उतरने वाली ट्रेनों में वैष्णो देवी के लिए दो ट्रेनों को शामिल किया गया है। हालांकि इन ट्रेनों का आगमन लखनऊ से होगा, लेकिन हरियाणा और पंजाब से होते हुए प्रतिदिन दौड़ेंगी। इन ट्रेनों का ठहराव किन स्टेशनों पर होगा, इसको लेकर स्थिति तय नहीं की गई है।

इसी प्रकार अमृतसर से फैजाबाद, वाराणसी से बङ्क्षठडा और नागपुर से चंडीगढ़ के बीच ट्रेनों का शेड्यूल तय किया गया है। अमृतसर से फैजाबाद के लिए ट्रेन बुधवार, रविवार व शुक्रवार, जबकि फैजाबाद से अमृतसर के लिए वीरवार, सोमवार और शनिवार हो चलेगी।

कैटरिंग का जिम्मा भी संभालेंगी कंपनी

इन ट्रेनों में कैटरिंग की जिम्मेदारी कंपनी की ही होगी, लेकिन इसमें रेलवे अपने स्तर पर मॉनीटरिंग करेगी। इन ट्रेनों को लेकर वीडियो कान्फ्रेंस में अधिकारियों से कुछ बिंदुओं पर जानकारी मांगी गई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.