Cover

अनलॉक के बाद शहर में 12 से ज्यादा मर्डर, किराए पर कमरा देखने के बहाने करोड़पति बुजुर्ग की हत्या

इंदौर: मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी अपराधों का गढ़ बनती जा रही है। अनलॉक होने के बाद शहर में 12 से अधिक हत्याएं हो चुकी है। इसी कड़ी में इंदौर के पॉश कालोनी में 60 वर्ष बुजुर्ग की बेरहमी से हत्या का मामला सामने आया है। खास बात यह कि इस अपराध को तब अंजाम दिया गया जब सारे लोग जन्माष्टमी के सेलिब्रेशन में व्यस्त थे। इस घटना ने शहर में पुलिस की मुस्तैदी के दावों की खुली पोल कर रख दी।

दरअसल पलासिया थाना क्षेत्र के अपार्टमेंट मनोरमा गंज स्थित हॉस्टल संचालक अजय शाह के घर में किराए का कमरा लेने के बहाने आए बदमाशों ने बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया। बताया जा रहा है कि घर के सामने ही फ्रूट का ठेला लगाने वाला भय्यू नामक युवक दो अन्य साथियों को लेकर अजय शाह के घर पहुंचा। वहां किराए से कमरा देने की बात कही। अजय शाह ऊपर का कमरा दिखाने के लिए पहुंचे तो तीन बदमाशों ने उनकी बेरहमी से हत्या कर दी काफी देर तक जब अजय शाह नीचे नहीं आए तो उनकी पत्नी द्वारा उनके वहां काम करने वाली लड़की शीतल को ऊपर भेजा बदमाशों ने शीतल को बंधक बनाकर ऊपर एक कमरे में बंद कर दिया काफी देर बाद जब उनकी पत्नी इंतजार करने के बाद भी जब उनके पति नीचे नहीं आए तो भय्यू नामक युवक नीचे आकर उनकी पत्नी से कहने लगा कि वह किसी काम से बाहर गए हुए हैं।

शक होने पर काफी देर बाद जब उन्होंने परिजनों को फोन लगाया तो घबराकर बदमाश मौके से फरार हो गए। घटना के बाद जब परिजनों ने काफी देर तक तलाश के बाद ऊपर बने कमरे में जाकर देखा तो शीतल बेहोश पड़ी थी और अजय शाह का शव खून से लथपथ जमीन पर पड़ा हुआ था जिसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई मौके पर पहुंची ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए एमवाय अस्पताल भिजवा दिया है।

संभवत यह भी बताया जा रहा है कि शाह दंपत्ति परिवार के पास एक पालदा स्थित 30000 स्क्वायर फीट का प्लाट है जिसको लेकर के भय्यू की निगाहें उस पर टिकी हुई थी और आए दिन उसे बेचने के लिए वह दबाव भी बना रहा था। पुलिस इन्वेस्टिगेशन में भय्यू उर्फ विवेक उसका एक साथी नीलेश व एक अन्य युवक का नाम घटना में सामने आ रहा है जिसको लेकर पुलिस अब आरोपियों की तलाश कर रही है। घटना के बाद से ही आरोपियों ने अपने फोन बंद कर लिए हैं।

मृतक की पत्नी ने बताया कि वे और उनके पति गुजरात के आश्रम से जुड़े हुए थे जो काफी दिनों से सेवादारी कर रहे थे और लॉक डाउन के बाद से ही वह इंदौर में आकर रह रहे थे उनके काम करने वाली युवती शीतल पिछले सालों से उनके वहां पर नौकरी करती थी। बदमाशों ने युवती का भी गला दबाकर उसे बंधक बनाया और उसका मोबाइल फोन लेकर फरार हो गए।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890