Cover

विश्व के सबसे ऊंचे युद्ध क्षेत्र में भारत माता की जय और वंदेमातरम की गूंज, चीन-पाकिस्तान को संदेश

जम्मू। गलवन में चीन को सबक सिखा चुकी भारतीय सेना के साथ इंडो तिब्बतन बॉर्डर पुलिस (आइटीबीपी) ने देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस पर लद्दाख में जोश से तिरंगा फहराकर दुश्मन को अपनी हरकतों से बाज आने का संदेश दिया। 15 अगस्त पर विश्व के सबसे ऊंचे युद्ध क्षेत्र पश्चिम लद्दाख (पाकिस्तान से लगती सीमा) के सियाचिन में 20 हजार फीट और पूर्वी लद्दाख (चीन से लगती सीमा) में 16 हजार फीट की ऊंचाई पर बुलंद हुए भारत माता की जय और वंदेमातरम के नारे की गूंज दुश्मन तक पहुंची।

पूर्वी लद्दाख में किसी भी प्रकार के हालात का सामने को तैयार खड़े सेना व आइटीबीपी के जवानों और अधिकारियों ने 15 अगस्त को हाथ में तिरंगे लेकर, वंदेमातरम और भारत माता की जय उद्घोष के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर पेट्रोलिंग कर पैगाम दिया कि देश की मिट्टी व तिरंगे की आन, बान और शान को हर कीमत पर बरकरार रखा जाएगा।

आइटीबीपी के जवानों ने उस पैगोंग झील के किनारों पर तिरंगे हाथ में लेकर पेट्रोलिंग की जिसे लेकर चीन विवाद पैदा करने की कोशिशें कर रहा है। वहीं, दूसरी ओर विश्व के सबसे ऊंचे युद्ध क्षेत्र सियाचिन में भी स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगे की धूम रही। सियाचिन में बिछी बर्फ की चादर में सफेद वर्दी में सेना के बर्फीले चीताओं ने तिरंगे फहराकर अपने इस प्रण को दोहराया कि वे दुश्मन के साथ-साथ निष्ठुर मौसम को भी मात देकर मातृभूमि की रक्षा करेंगे।

सीमा पर ड्रोन से रखी जा रही है नजर

स्वतंत्रता दिवस पर जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा, कश्मीर में नियंत्रण रेखा और लद्दाख में वास्तिवक नियंत्रण रेखा की रक्षा कर रहे सीमा सुरक्षा बल और सेना ने तिरंगा फहराकर देश के लिए मर मिटने के जज्बे का प्रदर्शन किया। जम्मू जिले के आरएसपुरा में भारत-पाकिस्तान सीमा की ऑक्ट्राय पोस्ट पर सीमा सुरक्षाबल जम्मू फ्रंटियर के आइजी एनएस जम्वाल ने भारत माता की जय के नारों के बीच तिरंगा फहराया। इस समय जम्मू में बाढ़ के हालात में अंतरराष्ट्रीय सीमा की सुरक्षा को लेकर सीमा सुरक्षा बल हाई अलर्ट पर है। ऐसे में सीमा पर पैनी नजर रखने के लिए ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

गुरेज के दुर्गम क्षेत्र में भी लहराया तिरंगा

वहीं, कश्मीर के गुरेज के दुर्गम हालात में सीमा पार से घुसपैठ, गोलाबारी का सामना कर रही सेना ने अग्रिम इलाकों में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। गुरेज में आतंकवादियों की घुसपैठ करवाने के लिए पाकिस्तान की ओर ये नियंत्रण रेखा पर भारी गोलाबारी की जा रही है। ऐसे हालात में वहां सेना, आतंकवादियों के मंसूबों को नाकाम बनाने के साथ लोगों की मुश्किलों को दूर करने के लिए भी लगातार कार्य कर रही है।

उत्तरी कमान की हर सैन्य फॉरमेशन में दिखा जोश

कश्मीर घाटी में आतंकवाद को खत्म कर स्थायी शांति कायम करने के लिए प्रयासरत सेना की 15 कोर ने भी स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराकर दुश्मन के हर प्रयास को नाकाम बनाने का प्रण लिया। केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर व लद्दाख की सुरक्षा का जिम्मा संभालने वाली सेना की उत्तरी कमान की हर सैन्य फॉरमेशन में जश्न-ए-आजादी का जोश दिखाई दिया। तिरंगे फहराने के साथ सैन्य क्षेत्रों में स्वतंत्रता दिवस पर कार्यक्रम हुए। इन आयोजनों के दौरान कोरोना संक्रमण की रोकथाम संबंधी हिदायतों का सख्ती से पालन किया गया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890