Cover

आंध्र प्रदेश के विजवाड़ा कार में बैठे तीन लोगों को जिंदा जलाने की कोशिश, आपसी विवाद के चलते गाड़ी में लगाई आग, आरोपी फरार

विजयवाड़ा। आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में सोमवार को एक व्यक्ति ने कथित तौर पर एक कार में आग लगा दी। हादसे में तीन लोग घायल हो गए हैं। पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) वी हर्षवर्धन राजू ने कहा कि तीन घायलों में से एक की हालत गंभीर है और सभी का इलाज चल रहा है। पुलिस के मुताबिक, नाबलिग आरोपित वेणुगोपाल रेड्डी की तलाश जारी है, जो घटना के बाद मौके से भाग गया था।

जलकर खाक हुई कार 

पुलिस ने बताया कि हादसे की जानकारी मिलने के बाद फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने आकर आग बुझाई, लेकिन तब तक कार जलकर खाक हो चुकी थी।

कार में बैठे थे तीन लोग

पुलिस ने न्यूज एजेंसी एएनआइ को बताया कि वेणुगोपाल रेड्डी कुछ समय पहले गंगाधर नाम के शख्स के साथ एक व्यापारिक बिजनेस करते थे। दोनों मिलकर सेकंड-हैंड कार खरीदते और बेचते थे। हालांकि, उनका व्यवसाय अच्छा नहीं चला रहा था। व्यवसाय में  घाटे के चलते वेणुगोपाल और गंगाधर में बहस हो गई।

विवाद के चलते आरोपित ने कार पर डाला पेट्रोल 

डीसीपी ने बताया कि वेणुगोपाल अपने दूसरे पार्टनर गंगाधर से बात करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उन्होंने कोई भी जवाब नहीं दिया। हालांकि, गंगाधर अपनी पत्नी नागवल्ली और एक दोस्त कृष्ण रेड्डी के साथ वेणुगोपाल से मिलने विजयवाड़ा में एक जगह गए। मामले को सुलझाने के लिए कार में बैठ कर तीनों की बात हुई। इसके थोड़ी देर बात ही आरोपित वेणुगोपाल ने गाड़ी से बाहर निकलकर गाड़ी पर पेट्रोल डाल दिया और मौके से फरार हो गया ।

गंगाधर का बयान होगा दर्ज

गंगाधर को एक बयान के लिए पटामाता पुलिस स्टेशन ले जाया गया। डीसीपी ने कहा कि कानूनी औपचारिकताओं को खत्म करने के बाद मामला दर्ज किया जाएगा। फिलहाल मामले की छानबीन चल रही है।

बता दें यह मामले ऐसे समय सामने आया है जब पहले ही देश कोरोना संकट से जूझ रहा है। इस संक्रमित वायरस से आंध प्रदेश भी अछूता नहीं है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.