Cover

स्वच्छता में इंदौर ने मारा चौका, एक बार फिर हासिल किया पहला स्थान

इंदौर: मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर ने सफाई के मामले ने एक बार फिर से राज्य का नाम रोशन किया है। शहर को चौथी बार सफाई में नंबर वन का खिताब मिला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में परिणामों की घोषणा आज ऑनलाइन समारोह के जरिए की। भोपाल में वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व महापौर मालिनी गौड़, कलेक्टर मनीष सिंह, निगमायुक्त प्रतिभा पाल और पूर्व निगमायुक्त आशीष सिंह उपस्थित हुए। इस घोषणा में मध्य प्रदेश को कुल 10 अवॉर्ड मिलेंगे। इनमें इंदौर के अलावा भोपाल, जबलपुर, बुरहानपुर, रतलाम, नगर परिषद कांटाफोड़ और उज्जैन, नगर पालिका सिहोरा, नगर परिषद शाहगंज, छावनी परिषद महू कैंट शामिल हैं।सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शहर की इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है और वहीं इस घोषणा के बाद सफाई कर्मचारियों ने नारेबाजी कर प्रसन्नता जताई है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शहर की इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है और वहीं इस घोषणा के बाद सफाई कर्मचारियों ने नारेबाजी कर प्रसन्नता जताई है। शहरभर में  जश्न मनाया जा रहा है। रेसीडेंसी कोठी पर सांसद शंकर लालवानी ने खुशी जाहिर करते हुए सफाई कर्मियों का किया सम्मान किया और ढोलक की ताल पर उनके साथ जमकर डांस भी किया।

आपको बता दें कि स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के अंतर्गत देश के 4242 शहरों ने भागीदारी की थी, जिसमें इंदौर पहले नंबर पर रहा है। स्वच्छता में पहली पंक्ति में खड़ा करने में शहर की जनता ने अपने फीडबैक से अहम भूमिका निभाई है। स्वच्छ सर्वेक्षण में इंदौर के करीब तीन लाख लोगों ने सकारात्मक फीडबैक दिया है। इसी के सहारे शहर सफाई के खिताब में चौका लगाया है।सफाई के कार्यों में शहरवासियों की भी भागीदारी समय समय पर देखने को मिलती है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.