Cover

राम मंदिर में पत्थरों को जोड़ने के लिये लगेंगे तांबे के प्लेट

अयोध्याः अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर में लगने वाले पत्थरों को जोड़ने के लिये तांबे के प्लेट का इस्तेमाल किया जायेगा। इसके लिये 18 ईंच लंबे,तीन मिलीमीटर गहरे और तीस मिलीमीटर चौड़े दस हजार प्लेट की आवश्यकता होगी।

श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने राम भक्तों का आहवान किया है कि वो प्लेट दान करें। तांबे के प्लेट पर दानकर्ता अपने परिवार, क्षेत्र अथवा मंदिरों के नाम गुदवा सकते हैं। इस प्रकार ये तांबे के प्लेट न केवल देश की एकात्मता का अभूतपूर्व उदाहरण बनेगें बल्कि मंदिर निर्माण में सम्पूर्ण राष्ट्र के योगदान का प्रमाण भी देंगे।

तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि मंदिर का निर्माण कार्य तीन साल में पूरा हो जाने की उम्मीद है । मंदिर का निर्माण भारत की प्राचीन निर्माण पद्धति से किया जायेगा और इसमें लोहे का इस्तेमाल बिल्कुल नहीं होगा। मंदिर की आयु हजारों साल की होगी और इस पर भूकंप या अन्य दैवीय आपदा का कोई असर नहीं होगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.