Cover

पीएम नरेंद्र मोदी ने दी UP को बड़ी सौगात, झांसी में केंद्रीय कृषि विवि के कॉलेज व भवन का उद्घाटन

झांसी। उत्तर प्रदेश में पिछड़ेपन का दंश झेल रहे बुंदेलखंड को केंद्र की नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार मुख्यधारा में लाने के प्रयास में हैं। इसी क्रम में शनिवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने झांसी में रानी लक्ष्मी बाई केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कॉलेज और प्रशासन भवनों का उद्घाटन किया।

नई दिल्ली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से झांसी में रानी लक्ष्मी बाई केन्द्रीय कृषि विश्‍वविद्यालय और प्रशासनिक भवन का उद्घाटन किया। इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहे। लखनऊ में सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास से तथा सांसद व विधायकगणों ने भी अपने-अपने क्षेत्र से कार्यक्रम में भागीदारी की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को झांसी में रानी लक्ष्मीबाई केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय का लोकार्पण किया। उन्होंने नई दिल्ली में पीएम आवास से ही बटन दबाकर झांसी को राष्ट्रीय महत्व की इस संस्था की सौगात दी। इस दौरान वर्चुअल सभा को पीएम मोदी के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सम्बोधित किया। इस कार्यक्रम में देशभर के 50 हजार लोग ऑनलाइन शामिल थे।

झांसी में रानी लक्ष्मीबाई केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के लोकार्पण को लेकर कृषि विश्वविद्यालय प्रशासन लम्बे समय से प्रयास कर रहा था। लोकसभा चुनाव से ठीक पहले 15 फरवरी, 2019 को जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झांसी आए तब लोकार्पण की सूची में कृषि विश्वविद्यालय का नाम शामिल किया गया, लेकिन बिल्डिंग का कुछ काम अधूरा होने की वजह से नाम हटा दिया गया। इसके बाद 24 अप्रैल, 2020 को पीएम मोदी के झांसी आगमन का कार्यक्रम तय हुआ। वह पंचायती राज दिवस के भव्य आयोजन में शामिल होने आ रहे थे। इस दौरान भी पीएमओ ने कृषि विश्वविद्यालय के लोकार्पण पर सहमति जता दी। दिल्ली से एक टीम ने झांसी आकर कार्यक्रम स्थल का चयन तक कर लिया, लेकिन कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन की घोषणा हो गई और कार्यक्रम टल गया।

50 हजार लोग ऑनलाइन शामिल

कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अरविन्द कुमार ने बताया कि वर्चुअल सभा भी होगी, जिसे पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह सम्बोधित करेंगे। इस दौरान देशभर के आईसीएआर के सभी 101 संस्थान, 75 कृषि विश्वविद्यालय, 721 कृषि विज्ञान केंद्र से लगभग 50 हजार लोग कार्यक्रम में ऑनलाइन शामिल थे।

कृषि विश्वविद्यालय का सफर

झांसी में कृषि विश्वविद्यालय की स्थापना करने की प्रक्रिया भले ही वर्ष 2009 में शुरू हुई, लेकिन राजनीतिक गलियारों से जूझने के बाद 5 मार्च, 2014 को गजट नोटिफिकेशन हो गया। इसके बाद जमीन को लेकर लम्बा प्रयास किया गया। नवंबर, 2017 में बिल्डिंग का निर्माण शुरू हुआ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890