Cover

अनलॉक 4 में सरकार का बड़ा एलान, पटरी पर जल्द दौड़ेंगी 100 से अधिक और विशेष ट्रेनें

नई दिल्ली। अनलॉक-4 में अर्थव्यवस्था को और ज्यादा खोल दिया गया है। आर्थिक गतिविधियां तेज होने से श्रमिकों की मांग बढ़ने लगी है, खासकर औद्योगिक शहरों में। लेकिन आवागमन के साधनों के अभाव में व्यावसायिक गतिविधियां तेजी से पटरी पर लौटती नजर नहीं आ रही हैं। इसको ध्यान में रखते हुए अब रेलवे ने सौ से अधिक विशेष ट्रेनों को जल्द पटरी पर वापस लाने का फैसला किया है।

रेल मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए और अधिक ट्रेनें चलाने की योजना बनाई जा रही हैं। जिन राज्यों से ट्रेनें चलनी हैं और जिन राज्यों को जानी हैं उनसे ट्रेनों के संचालन को लेकर संपर्क किया जा रहा है। राज्यों की मंजूरी मिलने के बाद अतिरिक्त स्पेशल ट्रेनें चलाने की घोषणा की जाएगी। हालांकि, प्रवक्ता ने यह नहीं बताया कि और कितनी ट्रेनें चलाई जाएंगी, लेकिन सूत्रों के मुताबिक इनकी संख्या सौ से अधिक हो सकती है।

ट्रेनों में टिकट की चल रही है वेटिंग

रेलवे अभी 230 विशेष ट्रेनों का परिचालन कर रहा है। लेकिन औद्योगिक शहरों में श्रमिकों की बढ़ती मांग के चलते इन ट्रेनों में टिकट की वेटिंग चल रही है। हाल ये है कि अगर आप सितंबर के महीने के किसी दिन का टिकट लेने जाएं तो आपको निराशा ही हाथ लगेगी। बिहार, बंगाल, ओडिशा, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश से महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली और अन्य औद्योगिक शहरों की तरफ जाने वाली लगभग सभी ट्रेनों में स्लीपर और एसी 3 के टिकट सितंबर तक फुल हैं।

25 मार्च से बंद कर दिया गया था ट्रेनों का परिचालन

कोरोना महामारी के सामने आने के बाद 25 मार्च से ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था। उसके बाद से अभी तक नियमित ट्रेन सेवा बंद ही है। 230 ट्रेनें के अलावा 30 राजधानी जैसी ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। नई ट्रेनें चलाई भी जाती हैं, तो इनके परिचालन या समय सारिणी में किसी तरह का बदलाव नहीं होगा।

लॉकडाउन के दौरान विभिन्न शहरों में फंसे श्रमिकों, छात्रों, तीर्थयात्रियों और सैलानियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने एक मई से कुछ श्रमिक ट्रेनें चलाई थीं। इनके अलावा 12 मई से 15 जोड़ी विशेष वातानुकूलित ट्रेनों का संचालन किया गया और एक जून से 100 जोड़ी ट्रेनें और चलाई गईं।

पिछले हफ्ते केंद्र सरकार ने अनलॉक-4 के लिए जारी दिशानिर्देशों में और कई तरह की रियायतों की घोषणा की थी। इसमें मेट्रो ट्रेन सेवा शुरू करना भी शामिल है। इसी को देखते हुए रेलवे भी और विशेष ट्रेनें चलाने की तैयारी में है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890