Cover

मास्क-दस्ताने, सैनिटाइजर और चाय की छोटी थैलियों के साथ कोरोना से मुकाबले को तैयार संसद

कोविड-19 की छाया में 14 सितंबर से शुरू होने वाले संसद के मानसून सत्र के दौरान सांसदों, कर्मचारियों सहित करीब 4000 लोगों के लिए कोरोना वायरस टेस्ट कराने, हजारों की संख्या में मास्क, दास्ताने, सैकड़ों सैनिटाइजर की बोतलें, चेहरे ढकने का आवरण या फेस शिल्ड सहित 18 दिनों के सत्र के लिए कई अन्य व्यवस्थाएं की गई हैं। अधिकारियों ने बताया कि सम्पूर्ण संसद परिसर की समय-समय पर साफ-सफाई और कीटाणु मुक्त किया जाएगा, वहीं विभिन्न संसदीय कागजातों के अलावा जूता-चप्पल एवं सांसदों के कारों को भी कीटाणु मुक्त बनाने की व्यवस्था होगी।

परिसर में आने जाने वाले लोगों की जांच की, बिना छुए सुरक्षा स्कैनिंग की व्यवस्था की जा रही है, साथ ही बिना छुए थर्मल स्कैनिंग भी की जाएगी। पहली बार लोकसभा और राज्यसभा की कार्रवाई दो पालियों में आयोजित की जाएगी। सांसदों के लिए सामाजिक दूरी के मानदंडों का पालन करते हुए बैठने की विशेष व्यवस्था होगी। Covid-19 महामारी को देखते हुए संसद परिसर को सुरक्षा जोन बनाना सुनिश्चित करने के उद्देश्य से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और राज्यसभा के सभापित एम वेंकैया नायडु ने कुछ ही दिनों पहले स्वास्थ्य मंत्रालय, ICMR, AIIMS, गृह मंत्रालय आदि के अधिकारियों के साथ बैठक की थी।

  • 14 सितंबर से 1 अक्तूबर तक चलने वाले संसद सत्र के लिए तय मानक परिचालन प्रक्रिया के तहत सांसदों और दोनों सचिवालय के कर्मचारियों तथा कार्रवाई को कवर करने वाले मीडिया कर्मियों को सत्र शुरू होने से 72 घंटे पहले कोविड-19 टेस्ट कराने को कहा जाएगा।
  • अधिकारियों ने बताया कि सांसदों, कर्मचारियों, पत्रकारों सहित सहित करीब 4000 लोगों के लिए कोरोना वायरस टेस्ट कराने की व्यवस्था की गई है। केवल सांसदों और मंत्रियों को मुख्य भवन में प्रवेश की अनुमति होगी जबकि उनके निजी कर्मचारियों के लिए परिसर में अलग बैठने की व्यवस्था की जाएगी।
  • सामाजिक दूरी के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए दोनों सदनों के सदस्यों के बैठने की नई व्यवस्था तैयार की गई है। सांसदों को मास्क पहनते हुए और बैठकर आसन को संबोधित करने की इजाजत होगी।
  • यह भी तय किया गया है कि एयरकंडिशनर से जुड़ी हवा की व्यवस्था में दिन में छह बार बदलाव किया जायेगा ताकि संभावित संक्रमण से बचा जा सके।
  • DRDO सभी सांसदों को बहुआयामी कोविड-19 किट उपलब्ध कराएगा। प्रत्येक किट में 40 मास्क, पांच एन-95 मास्क , 50 मिलीलीटर के सैनिटाइजर के 20 बोतल, फेस शिल्ड, 40 जोड़ी दास्ताने, चाय की छोटी थैली, हर्बल सैनिटाइजर आदि होंगे।
  • संसद के दोनों सदनों में कुल 780 सदस्य हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सुझाव दिया है कि चैम्बर में सांसदों की आवाजाही एक दिशा से हो ताकि आमने-सामने के संवाद से बचा जा सके।
  • मंत्रालय सभी सांसदों के लिए कोविड-19 संक्रमण और मास्क पहनने के फायदों से जुड़ा एक वीडियो उपलब्ध कराएगा।
  • संसद परिसर तथा संसद भवन में प्रवेश के समय थर्मल गन और थर्मल स्कैनर से तापमान की जांच की जाएगी। इसके अतिरिक्त संसद परिसर में सैनिटाइज़ेशन की व्यवस्था की जाएगी।
  • 40 स्थानों पर टचलेस सैनेटाइजर लगाए जाएंगे तथा इमरजेंसी मेडिकल टीम और एम्बुलेंस की व्यवस्था रहेगी।
  • पूरे परिसर में कोविड-19 से बचाव के दिशानिर्देशों को सख्ती से पालन किया जाएगा। मार्शल भी मास्क और फेस शिल्ड पहने रहेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890