Cover

सीएम केजरीवाल ने डेंगू के खिलाफ ’10 हफ्ते, दस बजे, 10 मिनट’ अभियान को किया शुरू

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार पिछले वर्ष की तरह डेंगू के खिलाफ 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट, हर रविवार डेंगू पर वार महा अभियान को शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सुबह 10 बजे अपने आवास पर साफ-सफाई करके इस अभियान की शुरुआत की। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान के जरिए हम दिल्ली को डेंगू और चिकनगुनिया से हमेशा के लिए निजात दिलाना चाहते हैं।

सीएम केजरीवाल ने अपने आवास से डेंगू के खिलाफ अभियान की शुरुआत करते हुए लोगों से स्वयं और अपने दस जानकारों को इस अभियान से जोड़ने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह डेंगू के मच्छरों का प्रजनन काल है, इसलिए अपने घरों में पानी जमा करके न रखें।

बता दें कि दिल्ली सरकार के सभी मंत्री, विधायक और अधिकारी भी हर रविवार को अपने घर में अभियान चलाएंगे। सीएम केजरीवाल ने दिल्ली वासियों से सुबह 10 बजे, 10 मिनट, 10 हफ्ते के अभियान में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की है, ताकि दिल्ली को डेंगू मुक्त बनाया जा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस रविवार यानी 6 सितंबर से हम दिल्ली में डेंगू के खिलाफ अगले 10 हफ्ते तक चल चलने वाली लड़ाई शुरू कर रहे हैं। हर रविवार, सुबह 10 बजे, 10 मिनट के लिए हमें अपने-अपने घर पर यह देखना है कि कहीं साफ पानी इकट्ठा तो नहीं है। जैसे गमला, कूलर, फूलदान इन सभी की अच्छे से जांच करनी है। अगर कहीं पर भी पानी जमा हो तो उसे उड़ेल दें या तेल या पेट्रोल डाल दें। हमें हर हाल में मच्छरों के पनपने से रोकना है। अगले दस हफ्तों तक हमें ऐसा ही करना है और डेंगू को हराना है।

केजरीवाल ने कहा कि 2015 में जब दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी थी, उस दौरान दिल्ली में डेंगू के 15867 केस आए थे और करीब 60 लोगों की मौत हुई थी। हमने 2019 में 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट का अभियान चलाया और परिणाम स्वरूप सिर्फ 2036 केस ही आए और मात्र 2 लोगों की मौत हुई। वहीं स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पिछले साल जब हमने यह अभियान शुरू किया था, तब हम दिल्लीवासियों और सरकारों के सामूहिक प्रयासों से डेंगू को हराने में सफल रहे थे। डेंगू के कारण मृत्यु दर नगण्य थी।

इस साल भी हम जीतेंगे। हर साल डेंगू के सबसे ज्यादा मामले 1 सितंबर से 15 नवंबर के बीच आते हैं। इसलिए दिल्ली वालों को 10 हफ्ते, 10 मिनट देने हैं। जैन ने कहा कि एक तरह से 100 मिनट मांग रहे हैं। आपके 100 मिनट का मतलब पौने दो घंटे हैं। अपनी दिल्ली को डेंगू और चिकनगुनिया से बचाने के लिए पौने दो घंटे तो हर आदमी दे ही सकता है।

इस महा अभियान को इस तरह बनाया जाएगा सफल

  • रविवार को 10 बजे, 10 मिनट, 10 हफ्ते अभियान की शुरुआत की जाएगी।- दिल्ली में रहने वाले निवासी अपने दस दोस्तों व परिचितों को कॉल करेंगे और उन्हें इस अभियान में शामिल होने के लिए प्रेरित करेंगे।
  • दिल्ली सरकार शहर की आरडब्ल्यूए को भी डेंगू के खिलाफ चलाए जाने वाले इस अभियान में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित करेगी।
  • सेलिब्रिटी और सोशल मीडिया पर प्रभाव रखने वाले लोग भी इस अभियान में हिस्सा लेंगे। वे अपने अनुभवों को रिकॉर्ड करके विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर साझा करेंगे।
  • दिल्ली सरकार के स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को इस अभियान में हिस्सा लेने के लिए उन्हें होमवर्क दिया जाएगा। इसके साथ ही वो फोन के जरिए अपने दोस्तों को भी इस अभियान में शामिल होने के लिए प्रेरित करेंगे।
  • पड़ोसी भी अपने आसपास रहने वाले लोगों को इस अभियान की विशेषता बताते हुए उन्हें इसमें बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने के लिए कहेंगे। – अपने और आसपास के ऑफिस में काम करने वाले लोगों को अभियान में शामिल होकर इसे सफल बनाने के लिए कहेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890