Cover

मो. खालिद 100 से अधिक कोरोना मृतकों का कर चुके हैं अंतिम संस्कार, मिली अलग पहचान

हजारीबाग। Coronavirus Patient Dead Body Funeral वर्तमान समय में कोरोना संक्रमितों के अंतिम संस्कार में अपने लोग भी डरे-सहमे नजर आते हैं। लेकिन मुर्दा कल्याण समिति के सचिव मो. खालिद ने अब तक सौ से अधिक कोरोना संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार किया है। इसके बाद भी स्वयं को संक्रमण से बचाए रखना प्रेरणादायी है। मो. खालिद ने रांची से लेकर हजारीबाग में अब तक सौ से अधिक संक्रमित मरीजों का अंतिम संस्कार करने में सहयोग किया है।

खालिद ने बताया कि रांची में लावारिस शवों का अंतिम संस्कार मारवाड़ी सहायक समिति के तत्वावधान में किया जाता रहा है। लेकिन कोरोना संकट के काल में समिति के  कर्मी के भाग जाने पर अंतिम संस्कार करना मुश्किल हो रहा था। समिति के सदस्यों के बुलावे पर 10 अगस्त को मो. खालिद रांची पहुंचे और कोरोना संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार किया। अपने सहयोगी राहुल के साथ मो. खालिद ने अब तक रांची में 78 एवं हजारीबाग में 24 संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार किया है।

इतने संक्रमित शवों के अंतिम संस्कार करने के बाद भी कुछ एहतियात बरतकर उन्होंने स्वयं को कोरोना संक्रमण से बचाए रखा है। मो. खालिद बताते हैं कि कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद उनके अंतिम संस्कार करने को लेकर चतरा एवं गिरिडीह जिला प्रशासन ने उनसे संपर्क कर मदद मांगी है। दोनों ही जिला प्रशासन को उन्होंने हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया है।

गौरतलब है कि चतरा एवं गिरिडीह जिला प्रशासन द्वारा संक्रमित शवों के अंतिम संस्कार में मदद करने को लेकर उन्हें भुगतान करने का प्रस्ताव दिया गया था, जिसे मो. खालिद ने ठुकरा दिया। उनका कहना है कि वह केवल चालक और इंधन का खर्च ही लेते हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.