Cover

उइगर महिलाओं ने सुनाई चीन के मानवाधिकार हनन की दास्तां, बच्चा पैदा करने पर भी है शर्त

लंदन। चीन के कब्जे वाले शिनझियांग स्वायत्त क्षेत्र के उइगर मुसलमानों के उत्पीड़न के रोंगटे खड़े करने वाले किस्से अब दुनिया के सामने आ रहे हैं। अब मानवाधिकार शिविरों में उइगर और टर्की मूल के अन्य समुदायों के साथ चीन में किए जा रहे जुल्मों की दास्तां वह खुद सुना रहे हैं।

एक मानवाधिकार संगठन की हालिया रिपोर्ट के अनुसार उइगर महिलाओं को अपना गर्भपात कराना पड़ता है कि अगर उन्होंने चीन की कम्यूनिस्ट सरकार के नियमों के अनुरूप गर्भधारण नहीं किया। चीन में उइगर महिलाओं को अब पहली संतान के जन्म के बाद दूसरी के लिए तीन या चार साल का अंतर रखना पड़ता है।

पूर्व बंधकों में से एक जुमरेत दाउत ने कहा कि हम सबको अज्ञात दवाइयां दी जाती थीं। इन दवाओं ने हम सभी महिलाओं को एकदम शिथिल बना दिया और बाद में पाया कि मासिक धर्म एकदम बंद हो गया और फिर वापस कभी शुरू नहीं हुआ। हम सबको हफ्ते में एक अज्ञात इंजेक्शन भी लगाया जाता था।

अमेरिका के वर्जीनिया में रहने वाली एक उइगर महिला जिबा मूरत ने बताया कि उसके पिता डॉ.गुलशन अब्बास चीन सरकार के बंधक हैं। जिया की मां लापता हैं और वह नहीं जानतीं कि वह लोग उनकी मां को 11 सितंबर, 2018 को किस शिविर में लेकर गए। वैश्विक महिलाओं के मुद्दों को देखने वाली केली क्यूरी ने कहा कि शिनझियांग प्रांत में मूल मानवीय पहलुओं का भी ध्यान नहीं रखा जा रहा है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890