Cover

बीजेपी की कलश यात्रा पर घिरी शिवराज सरकार, हाईकोर्ट ने थमाया नोटिस

इंदौर: कोरोना काल में इंदौर जिले के सांवेर में निकाली गई राजनीतिक कलश यात्राओं में उमड़ी भारी भीड़ का मामला हाई कोर्ट पहुंच गया है। इसे लेकर दायर जनहित याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करते हुए डिवीजन बेंच ने शासन प्रशासन को नोटिस जारी कर चार सप्ताह में जवाब मांगा है। इंदौर के सांवेर विधानसभा में निकाली गई कलश यात्रा का मामला अब गर्माता जा रहे है। इस यात्रा को लेकर कमल भागवत द्वारा एडवोकेट अभिजीत यादव के माध्यम से जनहित याचिका दायर की गई है।

इसमें कहा गया है कि मप्र में उपचुनाव के कारण भारतीय जनता पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं द्वारा जनसंपर्क तथा बड़े स्तर पर प्रचार के उद्देश्य से किये जा रहे आयोजनों में कोरोना महामारी के चलते हज़ारों की तादात में भीड़ इकट्ठा हो रही है जिससे कोरोना महामारी के फैलने का खतरा बढ़ गया है। इस पर तुरंत रोक न लगाई गई तो राष्ट्रीय स्तर पर नुकसान हो सकता है।

याचिका में प्रदेश की सांवेर विधानसभा में विशाल कलश यात्रा को लेकर भाजपा नेताओं के खिलाफ रा.सु.का. के अंतर्गत कार्यवाही करने की मांग और लापरवाह, गैरज़िम्मेदाराना और पक्षपाती पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग गई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.