Cover

किसानों को बड़ी राहत, पोर्ट पर अटके प्याज के निर्यात को मंजूरीः सूत्र

नई दिल्लीः बंदरगाहों पर प्याज की अटकी खेप को निर्यात प्रतिबंध से कुछ छूट दी जा सकती है। विदेश व्यापार महानिदेशालय/डीजीएफटी (DGFT) के सूत्रों ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। सूत्रों ने कहा कि डीजीएफटी ने वैसे कार्गो को मंजूरी देने का निर्देश सीमा शुल्क विभाग को संभवत: दे दिया है, जो बंदरगाह पहुंच चुके हैं। हालांकि रास्ते में फंसे कार्गो के लिए इस तरह का निर्देश नहीं दिया गया है।
PunjabKesari
हालांकि पाबंदियों से छूट तथा उसके आधार को लेकर निर्यातकों के बीच कुछ भ्रम की स्थिति है। एक कारोबारी ने कहा, ‘हम अनिश्चित हैं कि बंदरगाहों तक पहुंचने वाले सभी कार्गो को निर्यात की अनुमति दी जाएगी या केवल उन कार्गो को अनुमति दी जाएगी, जिन्होंने लेट एक्सपोर्ट ऑर्डर (एलईओ) प्राप्त किया हुआ है।’

भारत के प्याज एक्सपोर्ट पर रोक लगाने से बांग्लादेश हुआ परेशान, एक दिन में ही दोगुने हुए दाम
भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश ने बिना किसी सूचना के प्याज के एक्सपोर्ट पर प्रतिबंध लगाने के फैसले पर ‘‘गहरी चिंता’’ जताई है। बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय ने ढाका स्थित भारत के उच्चायोग के माध्यम से भेजे पत्र में कहा है कि 14 सितंबर 2020 को भारत सरकार द्वारा अचानक की गई घोषणा से दो मित्र देशों के बीच 2019 और 2020 में हुई चर्चाओं और इस दौरान बनी आपसी समझ को कमजोर किया गया है। आपको बता दें कि भारत सरकार ने सोमवार को घरेलू बाजार में प्याज की उपलब्धता बढ़ाने और कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए प्याज की सभी किस्मों के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.