Cover

छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह भी कोरोना पॉजिटिव, जानें राज्‍य के किन जिलों में कब से कब तक लग रहा लॉकडाउन

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह भी कोरोना से संक्रमित हो गए हैं। उन्‍होंने शनिवार को खुद ट्वीट करके यह जानकारी दी है। उन्‍होंने कहा, ‘मैंने कोरोना के शुरुआती लक्षण नज़र आने पर टेस्ट कराया था जिसमें मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मेरा निवेदन है कि विगत दिनों जो भी लोग मेरे संपर्क में आए हैं। वह आइसोलेशन में रहें एवं अपना कोरोना टेस्ट जरूर कराएं। इससे पहले रमन सिंह की पत्नी भी संक्रमित हुई थीं। 

कोरोना संक्रमण से बिगड़ते हालात की वजह से राज्‍य में फिर लॉकडाउन लागू होने जा रहा है। राजधानी रायपुर, न्यायधानी बिलासपुर, ट्विन सिटी दुर्ग-भिलाई के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में सोमवार – मंगलवार से सख्त लॉकडाउन का आदेश जारी हो गया है। धमतरी के शहरी क्षेत्र में 10 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया है। बेमेतरा, मुंगेली और रायगढ़ पहले से ही लॉकडाउन लगाया गया है।

कहां-कहां कब से लॉकडाउन

रायपुर- 22 से 28 सितंबर

बिलासपुर- 22 से 28 सितंबर

दुर्ग- 21 से 30 सितंबर

सरगुजा – 21 से 28 सितंबर

धमतरी-22 सितंबर से 01 अक्टूबर

एक दिन में 1,457 संक्रमित मिले

कबरीधाम जिले के शहरी क्षेत्रों में 10 सितंबर से अनिश्चितकालीन लॉकडाउन है। वहीं, बस्तर और जांजगीर-चांपा समेत कुछ और जिलों में जिला प्रशासन इस पर विचार कर रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शनिवार की शाम तक राज्य में 1,457 संक्रमित मिले जबकि 18 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई।

इन जिलों में सबसे ज्यादा केस

रायपुर

दुर्ग

राजनांदगांव

बिलासपुर

रायगढ़

रायपुर में सबसे ज्‍यादा केस मिले

बीते 24 घंटे में रायपुर में सबसे अधिक 634 संक्रमित मिले हैं। वहीं, 1585 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। राज्य में अब तक नौ लाख 50 हजार से अधिक सैंपल की जांच की गई है और 83 हजार 74 संक्रमितों की पहचान हुई है। देश में अब तक कोरोना संक्रमण से कुल 85,619 लोगों की मौत हुई है। महाराष्ट्र में से 31,791, तमिलनाडु में 8,685, कर्नाटक में 7,808 और आंध्र प्रदेश में 5,244 लोगों की मौत हुई है।

कोरोना मीटर

नए – 2617

सक्रिय मामले – 37489

स्वस्थ – 46081

कुल मामले – 84234

मौत – 664

24 घंटे में सैंपलिंग – 13685

सख्ती से लगाए लॉकडाउन, न करें राजनीतिक नौटंकी 

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि राजधानी को पूर्ण कंटेनमेंट जोन घोषित कर एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन का फैसला बहुत देर से लिया है। भाजपा लगातार सरकार का ध्यान खींच रही थी। दुविधाग्रस्त नेतृत्व राजधानी और प्रदेश को महामारी के गर्त में धकेलकर अब होश में आया है। इस बार लॉकडाउन का पूरी सख्ती से पालन किया जाए और कोई राजनीतिक नौटंकी सत्तारूढ़ दल के नेता कतई न करें। प्रस्तावित लॉकडाउन में लोगों को राहत पहुंचाने के लिए राज्य सरकार स्वास्थ्यगत ढांचे को मजबूत बनाने का काम ईमानदारी से करे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890