Cover

इस बंदर की हरकतों से परेशान पुलिस वाले, किसी को मारे थप्पड़ तो किसी के फाड़े कपड़े

बैतूल: मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के लोग एक बंदर के आतंक से परेशान हो गए हैं। जहां पिछले 15 दिनों से आमला जनपद चौराहे और पुलिस थाना परिसर में आए बंदर ने लोगों का खाना-पीना, सोना-जागना, वहां से गुजरना दुश्वार कर दिया है। बंदक के आतंक के कारण थाना के कर्मचारी-अधिकारी सहित रहवासी परेशान हैं। हालांकि, काफी मशक्कत करने के बाद वन विभाग इस उत्पाती बंदर को पकड़ने में कामयाब रहा।

आमला तहसील लोगों ने बताया कि ये बंदर राह चलते किसी भी शख्स को पीछे से मार देता था। हद तो तब हो जाती थी जब किसी व्यक्ति की बाइक खड़ी रहती थी और बंदर उसपर उछलकर गाड़ी को गिरा देता था। इसके अलावा उसने कई लोगों को नोचा और काटा भी है। साथ ही दुकान में रखी खाद्य सामग्री लेकर भाग जाता था।

जानकारी के मुताबिक बंदर के आतंक के कारण कई लोग घायल हुए हैं, जिनमें पांच पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। आमला पुलिस विभाग की सूचना पर जब मौके पर वन विभाग का अमला पहुंचा तो अमले को भी बंदर को पकड़ने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। रेस्क्यू टीम ने बंदर को पकड़ने के लिए कभी बंदर को फल तो कभी बिस्किट का लालच भी दिया था। करीब दो दिनों तक कड़ी मेहनत करने के बाद वन विभाग का अमला बंदर को पकड़ने में कामयाब रहा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

आप भी जानें, Congress के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने क्यों कहा- ‘झूठ की खेती’ करती है भाजपा     |     आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, सीतापुर भी जाएंगे     |     यमुना एक्सप्रेस वे पर पलटी पश्चिम बंगाल के यात्रियों से भरी बस, 20 घायल     |     युवती ने घर फोन कर कहा बेहोश हो रही हूं, पुलिस ने चेक किया तो मैसेंजर पर प्रेमी से बात करती मिली     |     लखनऊ में न‍िकाह के तीसरे दिन घर में हाइवोल्‍टेज ड्रामा, गुस्‍साए युवक ने गोमती में लगाई छलांग     |     उत्‍तराखंड में कोरोना की वापसी, बुधवार को आए कोरोना के 110 नए मामले     |     राज्य के शिक्षक संघों को सरकार से आस, शिक्षक संघ ने मुख्यमंत्री से की मुलाकात     |     बीएमपी-दो टैंक से घुप्प अंधेरे में भी नहीं बचेंगे दुश्मन, ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत विकसित की नाइट साइट     |     रुतबा जमाने के लिए स्‍टोन क्रशर के मालिक ने गांव में की फायरिंग, दहशत में ग्रामीण     |     युवाओं को नागवार गुजरी मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘संस्कारी नसीहत’     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 1234567890